कोरोना से जंग / हजारीबाग में फिर मिले काेराेना के 8 नए मरीज... एक का रिम्स में चल रहा इलाज, 41 पर पहुंची संक्रमितों की संख्या, 3 लोग ठीक हुए

8 new patients of Karena met again in Hazaribagh ... One is undergoing treatment in RIMS, number of infected reached 41, 3 people got cured
X
8 new patients of Karena met again in Hazaribagh ... One is undergoing treatment in RIMS, number of infected reached 41, 3 people got cured

  • हजारीबाग में मिले मरीजों में पांच की ट्रैवलिंग हिस्ट्री मुंबई से, तीन प्रवासी छत्तीसगढ़ के रायगढ़ से आए थे, जिले मेें 38 एक्टिव केस

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:28 AM IST

हजारीबाग. हजारीबाग जिले में एक बार फिर कोरोना बम विस्फोट हुआ है। शुक्रवार को आए रिपोर्ट में 8 पॉजिटिव पाए गए हैं। इन लोगों की सैंपलिंग हजारीबाग से की गई थी जबकि हजारीबाग का ही एक व्यक्ति रिम्स में भर्ती हैं। वह छत्तीसगढ़ से हजारीबाग आया था,  तकलीफ होने पर रिम्स में जाकर जांच कराई थी। पॉजिटिव लोगों में पांच लोगों की ट्रैवलिंग हिस्ट्री मुंबई से हजारीबाग है जबकि तीन लोगों की ट्रैवलिंग हिस्ट्री रायगढ़ से चौपारण है। संक्रमित पाए गए लोगों में एक व्यक्ति ईचाक प्रखंड क्षेत्र का रहने वाला है वह 15 मई को मुंबई से हजारीबाग पहुंचा था, जबकि दूसरा व्यक्ति पदमा प्रखंड क्षेत्र का रहने वाला है वह मुंबई से 16 मई को हजारीबाग पहुंचा था। जबकि हजारीबाग से सैंपलिंग किए गए दो व्यक्ति और रिंग से सैंपल इन किया गया एक व्यक्ति सहित तीन लोग सदर प्रखंड के अलग-अलग जगह के रहने वाले हैं। इनमें 2 लोग 16 मई को मुंबई से हजारीबाग पहुंचे हैं। जबकि रिम्स में भर्ती व्यक्ति का ट्रैवलिंग डेट स्पष्ट नहीं है। इनमें चार लोग सिल्वार क्वारेंटाइन सेंटर में रखे गए हैं जबकि तीन व्यक्ति 18 मई को रायगढ़ से हजारीबाग पहुंचे हैं। तीनों चौपारण प्रखंड क्षेत्र के अलग-अलग गांव के रहने वाले हैं। तीनों को बरही जेल परिसर में बनाए गए क्वारेंटाइन में रखा गया है। सभी सात संक्रमित पाए गए लोगों का सैंपलिंग 19 मई को की गई था। आठ का पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद जिले में कुल संक्रमितों  की संख्या 41 हो गई है। जिनमें तीन लोग स्वस्थ होकर पूर्व में ही घर लौट चुके हैं । जबकि हजारीबाग में अब 38 एक्टिव मामले हो गए हैं । सभी सात संक्रमितों को लेकर जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो गया है ।सभी को एचएमसीएच अस्पताल हजारीबाग के कोविड-19 वार्ड में सुरक्षित तरीके से लाने  की कवायद शुरू कर दी गई है, साथ ही उनका ट्रैवलिंग हिस्ट्री भी खंगाला जाने लगा है। इसकी पुष्टि करते हुए उपायुक्त डॉ भुवनेश प्रताप सिंह ने कहा कि सात संक्रमित का रिपोर्ट आई है। जिनमें चार लोग सिलवार क्वारेंटाइन में और तीन लोग बरही सीएचसी क्वारेंटाइन में रखे गए हैं। सभी की ट्रेवलिंग हिस्ट्री खंगाली जा रही है।
14 दिनों के मेडिकल सर्विलांस के बाद 16659 प्रवासी मुक्त
जिले में बाहर से आए 16659 प्रवासियों को शुक्रवार को होम क्वारेंटाइन से मुक्त कर दिए गए। 14 दिनों तक मेडिकल सर्विलांस में रह रहे उक्त सभी के जेहन से कोरोना वायरस संक्रमण का आशंका का बादल छंट गया है। यह सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करने और चिकित्सकों के निर्देशों का अनुपालन करने का परिणाम है। जिले मे अब तक बाहर से आने वाले 3890 प्रवासी 14 दिनों तक सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए मेडिकल सर्विलांस में रहने के बाद वार्ड फैसिलिटी क्वारेंटाइन से मुक्त हो चुके हैं। वही 16659 प्रवासियों का होम क्वारेंटाइन सर्विलांस क्लोज किया जा चुका है। जिले में अब तक 52,052 लोगों की स्क्रीनिंग की गई है। जिसमें 48,328 दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासी शामिल है। सबसे अधिक प्रवासियों की स्क्रीनिंग 11,816 विष्णुगढ़ प्रखंड में की गई है जबकि हजारीबाग मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 1906, बरही में 4200, बरकट्ठा में 6806, बड़कागांव में 1037, चौपारण में 10670, चुरचू  में 2600, इचाक में 2896, कटकमसांडी में 2323, केरेडारी मे 1698, सदर सीएचसी में 2425 और अर्बन में एक प्रवासी की स्क्रीनिंग की गई है। इसमें 17821 प्रवासी वार्ड क्वारेंटाइन  में भेजे गए है। जबकि 17192 प्रवासियों को होम क्वारेंटाइन में भेजा गया  है। दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासियों की जांच का आंकड़ा धीरे-धीरे नीचे आ रहा है। तीन दिनों तक तीन हजार से पार करने के बाद गुरुवार को आंकड़ा दो हजार के नीचे आ गया। शुक्रवार को 1628 प्रवासियों की जांच की गई। हजारीबाग मेडिकल कॉलेज अस्पताल में प्रवासियों का जांच शून्य रहा। जबकि जिले के बरही में 98, बरकट्ठा में 244, बड़कागांव मे 103, चौपारण में 196,चुरचू मे 110, इचाक में 211, कटकमसांडी मे 61, केरेडारी मे 78, विष्णुगढ़ में 441, सदर सीएचसी में 72 प्रवासियों की जांच की गई। इसमें 20 प्रवासियों को आइसोलेशन में भर्ती किया गया। जबकि 801 प्रवासियों को वार्ड क्वारेंटाइन में भेज दिया गया। वहीं 838 प्रवासियों को होम क्वारेंटाइन में 14 दिनों तक रहने की सलाह दी गई। शुक्रवार को 255 लोगों वार्ड क्वारेंटाइन से मुक्त किए गए।
18 कोरोना संक्रमितों के रिपोर्ट का इंतजार
हजारीबाग में वर्तमान में 37 मामले एक्टिव हैं। सभी कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज एचएमसीएच अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में चल रहा है। इनमें 18 लोगों का रिपीट स्वाब सैंपल जांच के लिए लैब भेजा गया है । उनके रिपोर्ट आने पर अगर वे निगेटिव पाए जाते हैं तो छुट्टी प्राप्त कर वापस घर जा सकते हैं। इनमें दो महिलाएं और दो नवजात भी शामिल हैं। हालांकि दोनों नवजात का पूर्व में ही स्वाब सैंपल रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। अस्पताल सूत्र के मुताबिक राज्य में एक्टिव मामलों में हजारीबाग दूसरे नंबर पर है। जबकि गढ़वा में 44 मामले एक्टिव हैं। जबकि हजारीबाग में 30 मामले अभी एक्टिव हैं। इनमें इलाज 18 लोगों का स्वाब सैंपल 22 मई को भेजा गया है जबकि दोनों नवजात की निगेटिव रिपोर्ट 19 मई को ही स्वास्थ्य विभाग को प्राप्त हो चुका है।
लॉकडाउन उल्लंघन पर 62 दोपहिया वाहन पकड़े गए
 वट सावित्री पूजा के दिन लाॅकडाउन उल्लंघन को लेकर पुलिस सख्त दिखी। पूजा को लेकर खरीदारी करने निकले 62 दाेपहिया वाहन चालकों को लॉकडाउन उल्लंघन के आरोप में पकड़ा गया। 
उनसे प्रति गाड़ी पांच सौ रुपए चालान 
काटते हुए कुल 31 हजार फाइन की वसूली की गई। एक दुकानदार पर भी लॉकडाउन उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया। सदर थाना प्रभारी नीरज कुमार ने बताया कि शुक्रवार को चलाए गए अभियान में डबल लोड चलने वाले 52 दाेपहिया वाहन चालकों के चालान काटे गए। फाइन में 31 हजार रुपए की वसूली की गई। वही सात बजे सुबह से पहले लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए दुकान खोलने के आरोप में एक दुकानदार पर भी मामला दर्ज किया गया है। वहीं बड़ा बाजार टीओपी प्रभारी एसके सिंह ने बताया कि अभियान के तहत 10 दाेपहिया वाहन चालकों पर कार्रवाई की गई। वहीं लॉक डाउन उल्लंघन के आरोप में पांच हजार रुपए की वसूली की गई।
उपायुक्त ने क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे लोगों से की वार्ता
हजारीबाग उपायुक्त डाॅ भुवनेश प्रताप सिंह ने वीडियाे काॅफ्रेंसिंग के माध्यम से शुक्रवार को कटकमदाग प्रखंड के दो क्वारेंटाइन सेंटर का जायजा लिया। जिसमें खपरियावां व सलगावां पंचायत शामिल हैं। वीडियो काॅफ्रेंसिंग में उपायुक्त ने क्वारेंटाइन में रह रहे प्रवासी कामगारों से व्यवस्था व सुविधाएं से संबंधित जानकारी ली। इस दौरान सभी लोगों ने नियमानुसार रहने, खाने व सोने की व्यवस्था को बताया। इस दौरान प्रखंड के अधिकारियों व पंचायत प्रतिनिधि व कर्मी को दिशा-निर्देश दिए गए। खपरियावां में वीसी के दौरान मौजूद बीडीओ जितेंद्र कुमार मंडल ने बताया कि यहां करीब 31 लोग क्वारेंटाइन में रह रहें हैं। जिन्हें पंचायत के मुखिया मंजु मिश्रा, मुखिया पति समाजसेवी रामकिशोर सावंत व कुछ स्थानीय लोगों भोजन सहित अन्य व्यवस्था में जुटे हैं। सलगावां पंचायत भवन में 30 लोग रह रहे हैं। उपायुक्त ने इन लोगों से भी व्यवस्था का जायजा लिया। मौके पर प्रखंड कर्मी सिद्धार्थ कुमारा, विकास कुमार आदि मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना