विरोध / काम के घंटे को 8 से बढ़ाकर 12 करने के विरोध में सीआईटीयू ने किया प्रदर्शन

CITU protest against increasing the working hours from 8 to 12
X
CITU protest against increasing the working hours from 8 to 12

  • कहा- पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए श्रम कानून में किया संशोधन

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

हजारीबाग. केंद्र सरकार पर मजदूर विरोधी और पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने वाली नीतियों को लागू करने का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को सीआईटीयू के कार्यकर्ताओं विरोध प्रदर्शन किया। कार्यकर्ता सीआईटीयू कार्यालय में मास्क पहनकर सोशल डिस्टेसिंग के साथ विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।  इस अवसर पर सीआईटीयू के जिला उपाध्यक्ष गणेश कुमार सीटू ने कहा कि कोरोना  महामारी के आड़ में केंद्र की मोदी सरकार देश की सार्वजनिक कंपनियों को पूंजीपतियों के हाथों में बेचकर  देश को कमजोर करने का काम कर रही है।  कहा कि यह विरोध प्रदर्शन केंद्र सरकार द्वारा  पूंजीपतियों को लाभ पहुंचने के लिए श्रम कानून में संशोधन कर काम के घंटे को 08 घंटा से बढ़ाकर 12 घंटा करने , मजदूरों की छंटनी करने , कारखानों को बंद करने बड़े बड़े पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए उनके पक्ष में कानून बनाने , कार्यरत मजदूरों का डीए और  वेतन काटने , रक्षा जैसे संवेदनशील कंपनियों में 74 प्रतिशत  एफडीआई का फैसला करने के खिलाफ है। साथ ही  सड़कों पर चल रहे हैं प्रवासी मजदूरों को बस रेल और रोजगार देने की मांग को लेकर देश के पांच  श्रमिक संगठनों के अखिल भारतीय आह्वान पर आज सीआई टी यू, हजारीबाग द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए विरोध दिवस  मनाया गया।  इस विरोध प्रदर्शन में मुख्य रूप से  जिला उपाध्यक्ष गणेश कुमार सीटू , पावेल कुमार , जुली देवी , विजय मिश्रा , ईश्वर महतो आदि उपस्थित थे ।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना