पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शैक्षणिक कार्य:वित्त मंत्री के बयान से शिक्षक संघ में नाराज गैर शैक्षणिक कार्य से मुक्त करने की मांग

कटकमदाग16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बीते दिन रांची में शिक्षक सम्मान समारोह पर आयोजित एक कार्यक्रम में वित्त एवं खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव द्वारा द्वारा सरकारी विद्यालयों में पढ़ाई का माहौल नहीं होने के बयान पर अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों व सदस्यों ने नाराजगी जताई है। संघ के पूर्व राज्य उपाध्यक्ष धीरज कुमार ने कहा कि वित्त मंत्री को सोचना चाहिए कि सरकारी विद्यालयों में अधिकांश अभिवंचित वर्ग, सुविधा विहीन परिवार के बच्चे शिक्षा ग्रहण करते हैं।

सरकारी विद्यालयों के शिक्षकों को अधिकारियों के अलावा कई गैर शैक्षणिक कार्यों में भी लगाए जाते हैं बावजूद शिक्षक अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहें हैं। यह जानने की जरूरत है कि सरकारी शिक्षकों को पीडीएस दुकानों में ड्यूटी, राशन कार्ड सत्यापन का आदेश, कोरोना काल में घर-घर चावल बांटने, लंबे समय से बीएलओ कार्य जैसे कई अन्य गैर शैक्षणिक कार्य का आदेश किसने दिया है? निजी विद्यालयों के अधिकांश छात्रों के पास ऑनलाइन क्लास हेतु मोबाइल उपलब्ध है। लेकिन सरकारी विद्यालयों के बच्चों के पास इसकी सुविधाएं नहीं है। उन्होंने मंत्री से अनुरोध किया है कि सरकारी शिक्षकों को केवल गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्त कर दें तो निजी विद्यालय सरकारी विद्यालयों के सामने कभी टीक नहीं पाएंगे।

खबरें और भी हैं...