पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इंस्टीट्यूशनल एथिकल कमेटी ने दी अनुमति:एसबीएमसीएच में पहली बार कोरोना सहित 20 बीमारियों पर शोध कार्य शुरू

हजारीबाग16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 26 डॉक्टर पेश करेंगे यक्ष्मा, डायबिटीज, नवजात शिशु रोग, कुपोषण और अन्य महत्वपूर्ण बीमारियों से संबंधित अपना शोध पत्र

शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज में कोरोना सहित 20 बीमारियों पर शोध शुरू कर दिया है। मेडिकल कॉलेज एथिकल कमेटी की बैठक चेयरमैन सह प्राध्यापक एमए मल्लिक की अध्यक्षता में हुई। इसमें कोविड-19 महामारी, यक्ष्मा, मधुमेह नवजात शिशु रोग, कुपोषण एवं अन्य 20 महत्वपूर्ण बीमारियों से संबंधित शोध कार्य पर 26 डॉक्टरों का शोध पत्र पेश करने का निर्णय लिया गया।

मेडिकल कॉलेज की स्थापना वर्ष 2018 में हुई। इसके बाद इस कॉलेज में बीमारियों पर शोध की यह पहली पहल है। अहम बात यह है कि यहां डॉक्टर की पढ़ाई कर रहे छात्रों को पढ़ाई के साथ-साथ शोध के तरीकों से भी रूबरू होने का अवसर मिलेगा। शोध में शामिल कमेटी वहां के छात्रों को विभिन्न बीमारियों पर किए जा रहे शोध से भी रूबरू कराएगा।

चेंज हो रहे कोरोना के वेरिएंट व बच्चों पर पड़ने वाले असर पर भी शोध

जानकारी के मुताबिक इस शोध में कोरोना के बदलते वेरिएंट और विभिन्न वेरिएंट से संभावित खतरा, बच्चों पर इसके असर और उनके बेहतर इलाज के विकल्प पर भी शोध किया जाएगा। इस शोध में कोविड-19 के संक्रमण से लेकर उसके इलाज के हर एक पहलू शामिल हैं। माना जा रहा है कि 26 चिकित्सकों का यह समूह शोध के माध्यम से कोविड-19 सहित विभिन्न शोध में शामिल बीमारियों से बचाव का जबरदस्त परिणाम बहुत जल्द देगा।

खबरें और भी हैं...