होमगार्ड नियुक्ति का मामला:होमगार्ड अभ्यर्थी की भूख हड़ताल चौथे दिन भी जारी

हजारीबागएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नया समाहरणालय के सामने नवनियुक्त होमगार्ड अभ्यर्थी का भूख हड़ताल चौथा दिन भी जारी रहा। कड़ाके के ठंढ में अभ्यर्थी का स्वास्थ्य दिन ब दिन बिगड़ते जा रहा है।महिला अभ्यर्थी घर परिवार को छोड़कर भूखे प्यासे बैठी हुई है।ज्ञात हो कि होमगार्ड नियुक्ति का मामला 2019 से अटका पड़ा है।भूख हड़ताल में बैठ कर नेतृत्व कर रहे आदर्श युवा संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष सह युवा आंदोलनकारी गौतम कुमार ने कहा कि सूत्रो से पता चला कि हज़ारीबाग़ जिला में होमगार्ड बहाली निरस्त हो गया।

आखिर इस चीज की लिखित सूचना अभी तक आंदोलन के टीम तक नही आया है।निरस्त की बात सच होगा तो उपायुक्त के खिलाफ हमलोग उच्च न्यायालय जाएंगे।यह सूचना अधिकार मंच के अध्यक्ष चितरंजन गुप्ता ने आंदोलन का समर्थन करते हुए कहा।वही बरही के अभ्यर्थी कंचन कुमारी का हाल रो रो कर बुरा हो गया। वो इस निरस्त की खबर से खुद को बहुत कोस रही थी।वो बोली कि डीसी को निरस्त करना ही था तो औपबंधिक सूची 29 जुलाई को प्रकाशित क्यो किये?वार्ता में बार बार नवंबर तक अंतिम सूची जारी करने की बात क्यो किये।

कंचन उपायुक्त पर आरोप लगाते हुए कही की डीसी को घुस चाहिए था तो हमलोग को बोलते। हमलोग एक एक कट्ठा जमीन बेचकर दे देते। वे दूध के धुले थोड़े हीं न है।अगर साफ सुथरा होते तो ब्लॉक स्तर पर इतना भ्रस्टाचार नही होता।डीसी हमोलोग के मुह से निवाला छिनने का काम किये है।और ये हमलोग होने नही देंगे।

खबरें और भी हैं...