पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना का असर:शिक्षण संस्थान बंद होने से खाली हो गए लॉज-हॉस्टल, रोजी-रोटी पर आफत

हजारीबाग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विद्यार्थियों के नहीं रहने से कई तरह के व्यवसाय प्रभावित, इन पर आश्रित परिवार भी आर्थिक संकट में घिरे

हजारीबाग शहर की आर्थिक गतिविधियां मंद पड़ गई हैं। हजारों परिवारों के सामने दो वक्त की रोटी और जरूरी कार्यों के लिए पैसाें की तंगी का संकट खड़ा हो गया है। कोविड 19 के कारण जारी स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह में लोगों की दिनचर्या बदल गई और बहुत सारी गतिविधियों पर नियंत्रण लगा है।

परन्तु सबसे ज्यादा असर कोचिंग व अन्य शिक्षण संस्थानों के बंद रहने का पड़ा है। इसके चलते हजारों लॉज खाली पड़े हैं। जिससे लॉज वालों की आमदनी का जरिया फिलहाल बंद है। लॉज वालों के साथ-साथ लॉज में रहने वाले छात्र-छात्राओं के नहीं रहने से अन्य कई तरह के छोटे-मोटे व्यवसाय और उन व्यवसायों पर निर्भर परिवार भी आर्थिक कठिनाई में घिरे हैं।

खबरें और भी हैं...