व्यवस्था:जिले में 58 केंद्रों पर आज से शुरू होगी धान की खरीदारी

हजारीबागएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 50 पैक्स, 07 एफपीओ व एक व्यापार मंडल के माध्यम से धान क्रय की व्यवस्था की गई है

खरीफ विपणन मौसम 2021-22 के लिए झारखंड सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों से धान क्रय करने का कार्य 15 दिसम्बर से शुरू होने जा रहा है। इसके लिए हजारीबाग जिले में 58 केंद्र चिन्हित किये गये हैं। इन केन्द्रों में 50 पैक्स, सात एफपीओ तथा एक व्यापार मंडल को जिला अनुश्रवण समिति द्वारा धान अधिप्राप्ति केंद्र के रूप में अधिकृत किया गया है। जानकारी के अनुसार हजारीबाग जिला से धान देने के इच्छुक 27375 किसानों का निबंधन किया गया है। इसके अलावा भी छुटे हुए किसान, जिन्होंने अपना निबंधन नहीं कराया है, वे अभी भी निबंधन करा सकते हैं।

1.40 लाख क्विंटल धान अधिप्राप्ति का है लक्ष्य
खरीफ विपणन मौसम 2021-22 में हजारीबाग जिला में एक लाख 40 हजार क्विंटल धान क्रय करने का लक्ष्य रखा गया है। जबकि इस वर्ष जिला अंतर्गत लगभग दो हजार मैट्रिक टन धान उत्पादन होने का अनुमान लगाया गया है।

10 पैक्सों में धान रखने के लिए गोदाम नहीं

जानकारी के अनुसार धान अधिप्राप्ति के लिए चयनित 50 पैक्सों में से 40 पैक्सों के पास ही अपना गोदाम है, दस पैक्सों के पास अपना गोदाम नहीं है। बताया गया है कि जिस केंद्र के पास अपना गोदाम नहीं है, उन्होंने पुराने सरकारी खाली भवन, खाली पड़े कार्यालय भवन को गोदाम के रूप में कार्य में लाने के आधार पर सहमति प्राप्त की है।

चार राईस मिलों को किया गया है टैग : पैक्सों में किसानों से धान क्रय करने की व्यवस्था के साथ चार राईस मिलों को टैग किया गया है, जो पैक्स से प्राप्त धान की मिलिंग कर भारतीय खाद्य निगम के गोदाम में सीएमआर पहुंचायेंगे। चार राईस मिलों में हेमकुंड राईस मिल, चंद्रावती राईस मिल, तृप्ति राईस मिल तथा कुंज बिहारी राईस मिल का नाम शामिल है।

2050 और 2070 रुपए एमएसपी निर्धारित : झारखंड सरकार ने धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य साधारण धान का 2050 रुपये प्रति क्विंटल तथा ग्रेड ए धान का 2070 रुपये निर्धारित किया है।

खबरें और भी हैं...