परेशानी / शहर के हजारों लॉज पड़े हैं खाली, चिंता में है मकान मालिक

Thousands of lodges in the city are lying vacant, landlord is in worry
X
Thousands of lodges in the city are lying vacant, landlord is in worry

  • कोरोना संकट में घर किराए का काराेबार मंदा, दो लाख से अधिक विद्यार्थी यहां रह कर करते हैं पढ़ाई

दैनिक भास्कर

May 29, 2020, 05:00 AM IST

हजारीबाग. हजारीबाग शहर अब शिक्षा हब के रूप में तब्दील हो चुका है। 27 वर्ष पहले विनोवा भावे विश्वविद्यालय के अस्तित्व में आने के बाद आसपास के जिलों के छात्र-छात्राएं यहां शिक्षा प्राप्त करने पहुंचने लगे। हर वर्ष बाहर से आने वाले छात्र-छात्राओं की संख्या में बढ़ोतरी होती गई। बहरहाल यहां लाॅज में रहकर 2 लाख विद्यार्थी शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। ऐसे में मकान मालिकों के लिए मुनाफे का धंधा लॉज बन गया। शहर में लगभग 5 हजार लाज विभिन्न मुहल्लों में संचालित हैं। यूं कहें कि शहर के 80 प्रतिशत मकान लॉज के रूप में तब्दील हो गया है।

कोराेना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने  लाॅज के इस धंधे को पूरी तरह चौपट कर के रख दिया। स्कूल-कॉलेज बंद होने के बाद प्रशासन ने मकान मालिक को लॉज खाली करने का आदेश जारी कर दिया। वही आदेश के बाद शहर के सभी लाॅज खाली हो गए। इधर मकान मालिक को डर सता रहा है कि जो छात्र घर जा चुके हैं वे वापस आएंगे या नहीं। प्रशासन ने अगले आदेश तक मकान मालिकों को किराया नहीं लेने का निर्देश जारी कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि जो मकान मालिक अपने किरायेदारों से भाड़े की मांग करेंगे उन पर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत कार्रवाई की जाएगी। ऐसे में मकान मालिकों  का पिछले दो माह से किराया आना बंद हो गया है।

15 हजार से डेढ़ लाख तक हर महीना आता है किराया
एक अनुमान के अनुसार विभिन्न मकान मालिकों को न्यूनतम 15 हजार व अधिकतम डेढ़ लाख तक किराया आता था, जो अब बंद हो गया है। कई मकान मालिक घर के किराए पर आश्रित हैं, उनकी आर्थिक स्थिति चरमरा गई है। मटवारी के लॉज मालिक शेखर प्रसाद कहते हैं कि मेरे लॉज में 46 लड़कियां रहती थी। सभी घर चली गई पिछले दो माह से भाड़ा बंद हो गया है। मेरा पूरा परिवार लॉज के किराए पर ही आश्रित था। स्कूल कॉलेज कब खुलेगा अभी कहना मुश्किल है ,ऐसे में रोजी रोटी का सवाल पैदा हो गया है।

कहां कहां चलते हैं लॉज :  शहर के मटवारी, कृष्णा पुरी, साकेत पुरी, आनंदपुरी, गिरजा नगर, कोरा, आर्य नगर, जुलू पार्क, गांधीनगर, सीमेंट्री रोड, नवाबगंज, हरणगंज, सुरेश कॉलोनी सहित दर्जनों मोहल्ले में लाॅज चलते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना