पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सेवा विस्तार नहीं:विभावि ने संबद्ध कॉलेजों को सेवा विस्तार नहीं देने का जारी किया पत्र

हजारीबाग14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

विनोबा भावे विश्वविद्यालय हजारीबाग ने सात सितंबर को अधिसूचना संख्या 1507 जारी कर शिक्षक और शिक्षकेतर कर्मियों के लिए निर्धारित सेवानिवृत्ति की उम्र का पालन करने का निर्देश अस्थाई और स्थाई संबद्धता प्राप्त सभी कॉलेजों को दिया है। इसमें बताया गया है कि झारखंड राज्य विश्वविद्यालय अधिनियम 2000 की धारा 67 के अनुसार प्राचार्य शिक्षक के सेवानिवृत्ति की उम्र 65 वर्ष और शिक्षकेतर की सेवानिवृत्ति की उम्र 60 वर्ष निर्धारित है इसके बाद किसी भी शिक्षक या शिक्षकेतर को सेवा विस्तार नहीं दें अगर सेवा विस्तार दिया जाता है तो इसके लिए प्राचार्य और सचिव जवाब दें होंगे। पत्र के जारी होने के बाद कई चर्चाएं हो रही हैं। विश्वविद्यालय खुद इसका पालन नहीं करता है। विश्वविद्यालय में रिटायरमेंट के बाद कई शिक्षकेतर कर्मियों को सेवा विस्तार दिया गया है।

विश्वविद्यालय में यह नियम लागू नहीं है तो फिर संबद्धता प्राप्त कॉलेजों के लिए नियम पालन थोपने जैसा है। हाल ही में विश्विद्यालय में सेवा विस्तार मिलने पर कार्यरत स्थापना विभाग से रविंद्र कुमार को हटाया गया। विश्वविद्यालय कार्यालय में अन्य अवकाश प्राप्त कर्मचारियों से सेवा ली जा रही है। स्थाई और अस्थाई संबद्धता प्राप्त महाविद्यालय भी झारखंड यूनिवर्सिटी एक्ट से निर्देशित होते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें