आत्महत्या की कोशिश:मनिका के नामुदाग में इकलाैते बेटे ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

हुसैनाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जहर खाने से युवती की स्थिति नाजुक

प्रखंड के नामुदाग पंचायत के चेचेन्धा गांव के पत्थललठ्ठा टोला निवासी दीपक कुमार 16 वर्ष ने बुधवार की शाम अपने घर मे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

मृतक के पिता चलितर भुइयां ने बताया कि दीपक की मानसिक हालत ठीक नहीं थी। कांके रिनपास हॉस्पिटल से से उसकी दवाई चल रही थी। उसने बताया कि मैं सुबह काम करने के लिए घर से निकला था।

उसकी मां गाय बैल लाने गई हुई थी और बहन संगीता घर लीपपोत कर नहाने गई हुई थी। इसी बीच दीपक ने प्लास्टिक की रस्सी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। जब संगीता घर पहुंची तो दीपक को फांसी पर लटका पाया।

जहर खाने से युवती की स्थिति नाजुक

हुसैनाबाद के मोहम्मदाबाद गांव निवासी मनोज चौधरी की 18 वर्षीय पुत्री खुशबू कुमारी ने मानसिक तनाव में आकर जहर खा ली। इसके बाद वह बेहोश हो गई। परिजनों ने उसे तत्काल हुसैनाबाद अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया।

जहां चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद स्थिति को गंभीर देखते हुए बेहतर इलाज के लिए मेदिनीनगर रेफर कर दिया। बताया जाता है कि किसी बात को लेकर पिता ने बेटी को डांटा था।

युवक ने लगाई फांसी, हुई मौत

हुसैनाबाद शहर के युवक ने आवेश में आकर आत्महत्या कर ली है। जानकारी के अनुसार हुसैनाबाद शहर के देवरी रोड़ निवासी भोला चौधरी के पुत्र ने अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। परिजनों के अनुसार युवक का मानसिक संतुलन ठीक नहीं था।

खबरें और भी हैं...