पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्तिक पूर्णिमा:उत्तरवाहिनी नदी में स्नान कर दीप दान, पूजा-अर्चना

इटखोरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मां भद्रकाली की 5000 से ज्यादा श्रद्धालुओं ने पूजा की, सुबह 3 बजे से ही पहुंचने लगे थे

कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर सोमवार को मां भद्रकाली मंदिर प्रांगण में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की जनसैलाब माता-रानी की पूजा-अर्चना के लिए उमड़ पड़ी। इससे पूर्व श्रद्धालुओं ने मंदिर के पीछे उत्तरवाहिनी नदी के तट पर स्नान कर कलकल बहती नदी के धार में दीपदान किया। दीपदान से उत्तरवाहिनी नदी जगमग हो उठी। नदी में 3 बजे अहले सुबह से ही श्रद्धालुओं की जत्था स्नान के लिए पहुंचने लगा था। नदी में स्नान कर श्रद्धालु दीपदान कर सीधे मां भद्रकाली मंदिर के मुख्य गेट पर पहुंचे। यहां इन्हें स्थानीय प्रशासन की ओर से स्क्रीनिंग की गई। श्रद्धालु माता-रानी की पूजा-अर्चना की। सुफलनाथ,सहस्त्र शिवलिंगम, राम जानकी मंदिर और कोटेश्वर नाथ का दर्शन-पूजन करते हुए सीधे मंदिर के पीछे से रोड पर निकल गए। मंदिर में पांच बजे शृंगार पूजा के वक्त से हीं श्रद्धालुओं की भीड़ पूजा-अर्चना के लिए जुटने लगी थी। जो भीड़ ढाई बजे दिन रहा। कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर 5000 से ऊपर श्रद्धालुओं ने उत्तरवाहिनी नदी में स्नान कर मां भद्रकाली माता की पूजा-अर्चना की।

इससे मंदिर प्रांगण में दिन भर चहल-पहल का माहौल बना रहा।यह भीड़ मंदिर प्रांगण में भव्य मेला में तब्दील हो गया। भीड़ को नियंत्रण करने के लिए स्थानीय सीओ सह मंदिर प्रबंधन समिति के पदेन सचिव वैद्यनाथ कामती, थाना अधिकारी और सदस्य रतन शर्मा, सुरेश सिंह, सुरेंद्र सिंह एवं मंदिर के पुरोहित काफी मुस्तैद रहे। अधिकारी और सदस्य इन श्रद्धालुओं को कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए ध्वनि यंत्र पर अनाउंसमेंट कर आगाह करते रहे।पुछे जाने पर मंदिर के पुरोहित सीताराम पांडे और सतीश शर्मा उर्फ मंटू बाबा ने बताया कि कार्तिक मास की पूर्णिमा पर स्नान और मां भद्रकाली माता की पूजा-अर्चना करने से मनोवांछित फल प्राप्त होता है। उन्होंने बताया कि सतयुग में इस कार्तिक मास की पूर्णिमा में मार्कंडेय ऋषि स्नान कर अपनी लंबी उम्र की कामना की थी। जिन्हें भगवान विष्णु और शिव ने उन्हें लंबी उम्र की वरदान दिया था। इसी समय से कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान और पूजा-अर्चना का काफी महत्व है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser