पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आफत:फसल अच्छी, पर बाजार नहीं; मिर्च ने रुलाया

जारीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निरंजन ने 5 एकड़ में लगाई मिर्च की फसल, तीन लाख रुपए लगाए, लॉकडाउन ने कराया भी नुकसान

सरकार कुछ फसल बेचने की व्यवस्था करती तो अगले सीजन में खेती करने में राहत मिलती। सारी फसल खेत में ही बर्बाद हो जाएगी तो अगले बार किस पैसे से खेती करेंगे। ये बातें रुद्रपुर गांव के किसान निरंजन लकड़ा ने कही। लॉकडाउन के कारण किसानों को काफी नुकसान पहुंच रही है। खेत में मिर्च की फसल लहलहा रही है, लेकिन लॉकडाउन में फसल बेचे कहां। सारा फसल पौधे का साथ छोड़ने लगे हैं। फसल बर्बाद हो रही है। इससे किसान सबन अंसारी, ज्यारूल अंसारी, हसन अंसारी, अर्जुन चिंतित हैं।

रोज खेत आकर फसल निहारते हैं और आपने नसीब को कोसते हैं- निरंजन

निरंजन ने बताया जैसे ही फसल तैयार हुई लॉकडाउन के कारण सभी बाजार बंद हो गए। इससे सारा फसल खेत में ही पड़ी है। रोज खेत में आकर अपने बोई हुई फसल को निहारते रहते हैं। किसी तरह पैसा इकट्ठा करके तीन लाख रुपए खेती करने में लगा दी कि जिंदगी इसी काम से संवारेंगे। लेकिन ऊपर वाले को कुछ और मंजूर था। 5 एकड़ भूमि में लगे फसल को बेच नहीं पा रहे हैं। इससे हम सभी परिवार काफी मायूस हैं। लेकिन अब लगता है सारी फसल बर्बाद हो जाएगी। अब हमें समझ में नहीं आ रहा है कि किस तरह आगे की खेती करेंगे।

खबरें और भी हैं...