पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विस्तार से रोशनी डाली:विभिन्न ईदगाहों में अदा की गई ईद-उल अजहा की नमाज, दी गई बकरे की कुर्बानी

कांडी4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना पर गाइडलाइन का पालन करते हुए अधिकांश ने घरों में पढ़ी नमाज, दी एक-दूसरे को पर्व की बधाई

मुस्लिम कौम के लोगों के गांव में पाक परवरदिगार की खिदमत में कुर्बानी का त्योहार ईद उल अजहा (बकरीद) मनाया । इस मौके पर तयशुदा कार्यक्रम के अनुसार विभिन्न ईदगाहों पर बकरीद की नमाज अदा की गई। इस दौरान युवा, बालक, वृद्ध सभी उम्र के लोग मौजूद थे। जो नमाज के बाद एक दूसरे के गले मिलकर ईद की मुबारकबाद देते देखें गए।

इस मौके पर कांडी प्रखंड क्षेत्र के कांडी, नयनाबार, जमुआं, पतिला, भुड़वा, कुरकुट्टा, अधौरा, सेतो, घटहुआं, सोनपुरा आदि गांवों में स्थित ईदगाहों में मौलवी मौलाना की सदारत में नमाज अदा की गई। जबकि घरों में बकरों की कुर्बानी दी गई। इस मौके पर हाजी आबिद खलीफा, हातिम खलीफा, अजीज अंसारी, इसराइल अंसारी, नाजीर अहमद, सरफुद्दीन अंसारी, समसुद्दीन अंसारी, हकीम अंसारी, इमामुद्दीन खां सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे। इस दौरान नयनाबार ईदगाह पर कांडी पंचायत के मुखिया विनोद प्रसाद ने लोगों से मिलकर उन्हें ईद उल अजहा की मुबारकबाद दी। इधर शांति व्यवस्था बनाए रखने को लेकर पुलिस प्रशासन भी सतर्क रहा। थाना क्षेत्र में पुलिस की गश्त जारी थी। चिनिया प्रखंड में बुधवार को बकरीद का नमाज मुस्लिम समुदाय के लोगों ने विभिन्न गांव के मस्जिद मे अदा किया। साथ ही एक दुसरे को मुबारकबाद पेश किया। बकरीद का नमाज रानिचेरी, चिनिया, बेसरी, बरवाडिह, खुरी व खड़ापत्थर आदि गांव में निर्धारित समय के अनुसार मुस्लिम समुदाय के लोगों ने बकरीद का नमाज अदा किया।

उधर रंका में प्रशासनिक सहमति नहीं मिलने की वजह से बकरीद के पर्व के मौके पर लोगों ने अपने अपने घरों में ही बकरीद का नमाज अदा की। वही ईदगाह व मस्जिदों में सीमित लोगों ने ही बकरीद का नमाज अदा किया । यहां बता दें कि कोरोना महामारी को देखते हुए रका अनुमंडल पदाधिकारी राजेश कुमार लिंडा के द्वारा शांति समिति की बैठक में स्पष्ट निर्देश दे दिया गया था कि किसी भी हाल में लोग बकरीद के मौके पर भीड़ लगाकर बकरीद की नमाज अदा नहीं करेंगे ।

उन्होंने कहा कि सभी लोग अपने अपने घरों में ही बकरीद की नमाज अदा करेंगे ताकि कोरोना महामारी के संक्रमण को आगे बढ़ने से रोका जा सके वही आज रंका अनुमंडल मुख्यालय के रंका ईदगाह एवं थाना मोड़ मस्जिद में वीरानगी की देखी गई। मुस्लिम समुदाय के गिने-चुने लोगों के द्वारा ही ईदगाह व मस्जिद में जाकर नमाज अदा की गई जबकि शेष सभी लोगों ने अपने अपने घरों में ही बकरीद का नमाज अदा किया और मोबाइल के माध्यम से लोगों को बकरीद का शुभकामना दी।

प्रखंड क्षेत्र में ईद-उल-अजहा का भ‌वनाथपुर में कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुवे नमाज असली उत्तरी ईदगाह, पंडरिया, चौरासी, बघमनवा, मकरी, चपरी के ईदगाह में नमाज अदा की गई । इस के बाद घरों में फातिहा पढ़ा गया। और बकरे की कुर्बानी दी गई।अरसली मस्जिद पेसीमाम मौलाना सजादुल कादरी व हसमत अंसारी ने ईद-उल-अजहा पर्व किस लिए मनाया जाता है इस पर विस्तार से रोशनी डाली।

नमाज बाद लोगो ने एक दूसरे से गले मिलकर बकरीद की मुबारकबाद दी। वही सभी जाति धर्म संप्रदाय के लोगो ने मुबारकबाद दी। इस मौके पर स्थानीय प्रशासन सतर्क रहा। क्षेत्र में पुलिस गश्त जारी रही। सभी जगहों पर बकरीद का पर्व शांतिपूर्ण ढंग से मनाया गया।

खबरें और भी हैं...