पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्यक्रम:कंपनियों के 68 हजार करोड़ कर्ज माफ हो सकते हैं तो किसानों का कर्जा माफ क्यों नहीं

कोडरमा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने मनाया किसान मुक्ति दिवस

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति कोडरमा इकाई की ओर से रविवार को किसान मुक्ति दिवस मनाया गया। मौके को लेकर पानी टंकी रोड से लोगों में सामाजिक दूरी का पालन करते हुए जुलूस निकाला, जो झंडा चौक पहुंचकर सभा में तब्दील हो गया। जुलूस का नेतृत्व किसान नेता महेश प्रसाद सिंह व जिला मंत्री प्रकाश रजक ने किया। मौके पर जिप सदस्य महादेव राम ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा सिर्फ ढोंग है, इस बीमा से किसानों को कोई लाभ नहीं है।

उन्होंने कहा कि इस बीमा से सिर्फ पीएम मोदी की क्षत्रछाया में बीमा कंपनियां मालामाल हो रही है। वहीं जिला मंत्री प्रकाश रजक ने कहा कि भारत के कंपनियों का 68 हजार करोड़ कर्जा माफ हो सकता है तो किसानों का कर्जा माफ क्यों नहीं हो सकता। सभा को महेश सिंह, एटक नेत्री सोनिया देवी ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता महेश सिंह ने किया। मौके पर अर्जुन यादव, धनपत यादव, कुलेश्वर पंडित, सकलदेव कुमार, मथुरा रजक, राजेंद्र कुमार सहित अन्य लोग मौजूद थे।

प्रखंड के कोलगरमा गांव में झारखंड राज्य किसान सभा के बैनर तले भारत बचाओ कार्यक्रम के तहत जुलूस व सभा का आयोजन कर किसान मजदूर मुक्ति दिवस मनाया गया। मौके पर लोगो ने किसान विरोधी अध्यादेश को निरस्त करने, छह माह तक प्रति व्यक्ति 10 किलो अनाज देने, आयकर के बाहर सभी परिवारों को छह माह तक 7500 रुपए देने, सभी का बिजली बिल माफ करने, मजदूरो को वेतन वृद्धि 21 हजार करने, देश की संपत्ति को कोडी के भाव में बेचने पर रोक लगाने, मनरेगा में 200 दिन काम की गारंटी देने की मांग की। कार्यक्रम का नेतृत्व किसान नेता असीम कुमार, परमेश्वर यादव, घनश्याम तुरी ने किया। मौके पर शिवनारायण यादव, सहमत अंसारी, असगर अंसारी, सुरेंद्र यादव, वासुदेव यादव, नरेश सिंह सहित अन्य लोग मौजूद थे।

भारत छोड़ो आंदोलन दिवस के मौके पर भाकपा माले कोडरमा प्रखंड इकाई की ओर से कार्यकर्ताओं ने सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए केंद्र सरकार के द्वारा देश की सरकारी संपत्तियों का निजीकरण करना बंद करने, स्वास्थ्य सेवाओं व शिक्षण संस्थाओं को सरकारीकरण करने, कॉरपोरेट घरानों की दलाली बंद करने, सरकारी स्वास्थ्य संस्था को सशक्त बनाने की मांग की गई। मौके पर इस संबंध में माले कार्यकर्ताओं ने पोस्टर व नारे लगाकर प्रतिवाद किया। कार्यक्रम के आरंभ में झारखंड आंदोलन के अग्रिम नेता का. बसीर अहमद के निधन पर एक मिनट का मौन रख श्रद्धांजलि अर्पित की।

मौके पर संदीप कुमार ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा थोपी गई कॉरपोरेट नीतियों से किसान, मजदूर, छात्र, नौजवान, सरकारी कर्मचारी सहित आम जनता परेशान है। उन्होंने कहा कि माले मांग करती है कि सरकारी संपत्तियों के निजीकरण पर तत्काल रोक लगाई जाए। मौके पर तुलसी कुमार राणा, नागेश्वर प्रसाद, वीरेंद्र सिंह घटवार, मो. सशीम, सैरून निशां, अनवर हुसैन, आमना खातुन, किशोर यादव, सुमित यादव, कुलसुम खातून सहित अन्य लोग मौज्ूद थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अध्यात्म और धर्म-कर्म के प्रति रुचि आपके व्यवहार को और अधिक पॉजिटिव बनाएगी। आपको मीडिया या मार्केटिंग संबंधी कई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, इसलिए किसी भी फोन कॉल को आज नजरअंदाज ना करें। ...

और पढ़ें