पूजा- पाठ / अक्षय सुहाग की कामना का महापर्व वट सावित्री जिले में श्रद्धा व भक्ति-भाव के साथ मनाया गया

Akshay Suhag's wish was celebrated with reverence and devotion in the Mahavat Vat Savitri district
X
Akshay Suhag's wish was celebrated with reverence and devotion in the Mahavat Vat Savitri district

  • लॉकडाउन के बाद भी कोराेना पर भारी दिखी महिलाओं का आस्था, सोशल डिस्टेंसिंग का भी नहीं हुआ पालन, सावित्री -सत्यवान की कथा सुनी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:44 AM IST

कोडरमा. अक्षय सुहाग की कामना का महापर्व वट सावित्री व्रत शुक्रवार को पूरे जिले में श्रद्धा व भक्ति-भाव के साथ मनाया गया। कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर जारी लॉकडाउन के बावजूद काफी संख्या में महिलाओं ने सोशल  डिस्टेंसिंग को भूल वट वृक्षों की पूजा करने पहुंची थी। जिले के विभिन्न इलाकों में कोरोना वायरस पर महिलाओं की आस्था भारी दिखी। शहर व आसपास के विभिन्न क्षेत्रों के मंदिरों में अहले सुबह से ही सैकड़ों की संख्या में महिलाएं वट वृक्ष की पूजा करती देखी गई। महिलाएं काफी संख्या में वट वृक्ष में झुक कर श्रद्धा व भक्ति के साथ अपने पति की दीर्घायु होने की कामना की। खुदरा पट्टी स्थित हनुमान मंदिर, देवी मंडप रोड स्थित भगवती मंदिर स्थित वट वृक्ष में सोलहों श्रृंगार व रंग बिरंगे परिधानों में सजी सुहागिन महिलाओं ने जल, मौली, अक्षत, रोली, कच्चा सूता को चढ़ाया व पूजन के बाद कच्चे धागों को वृक्ष में रक्षा सुत्र के रुप में बाध परिक्रमा की।

पुजा के बाद व्रती महिलाएं वृक्ष के निकट बैठकर सावित्री -सत्यवान की कथा सुनी। बाद में सुहागिन महिलाएं एक -दुसरे को सिंदूर लगाकर आर्शीवाद लिया। पर्व के मौके पर महिलाओं ने 24 घंटे का निर्जला उपवास रखकर अपने अमर सुहाग की कामना की। शहर के कई इलाकों में लॉकडाउन के कारण महिलाओं ने अपने अपने घरो में ही वट वृक्ष की डाली लगाकर पूजा अर्चना की। वहीं कोडरमा बाजार पुरनानगर, झुमरी, चाराडीह, लख्खीबागी सहित अन्य स्थानों पर स्थित वट वृक्ष में पूजा अर्चना को लेकर महिलाओं की भारी भीड़ लगी रही। वहीं डोमचांच प्रखंड के गोसाईरथा, तेतरियाडीह, नावाडीह, जेरूआडीह स्थित वट वृक्ष के समीप महिलाओं की काफी भीड़ देखी गई। मौके पर महिलाओं ने वट वृक्ष की परिक्रमा कर श्रृगांर की सामग्री ,वस्त्र आदि ब्राह्मणों को दान दिया। 
वहीं जयनगर प्रखंड के विभिन्न इलाकों में वट सावित्री पूजा के मौके पर सुहागिन महिलाओं ने अपने पति की दीर्घायु होने की कामना के साथ पूरी निष्ठा से वट सावित्री पूजा कर अखंड सौभाग्य की कामना की। सुबह से ही नवविवाहिता  सहित अन्य सुहागिन महिलाओं ने नए वस्त्र में सजधज कर बांस की डलिया में  फल फूल नारियल पकवान सहित अन्य सामग्री प्रसाद के रूप में लेकर वट वृक्ष  के पास पहुंची और पंडितों द्वारा बट सावित्री की कथा सुनकर विधि विधान से पूजा अर्चना करते हुए प्रसाद चढ़ाकर वट वृक्ष की पूजा की। पूजा के दौरान सुहागिन महिलाओं ने बरगद के पेड़ में कच्चा धागा बांधे और बांस की पंखा झेल कर पति के दीर्घायु होने और अखंड सौभाग्य की कामना की। महिलाओं ने अपने पति की लंबी उम्र की कामना को लेकर वट वृक्ष के पत्ता को बाल में लगाया। वहीं गाेदखर, सांथ, जयनगर मोदी मुहल्ला, पेठियाबागी, पीपचो, तरवन सहित विभिन्न क्षेत्रों में वटवृक्ष के नीचे दिन भर सुहागिनों  ने पूजा को लेकर भीड़ उमड़ी रही। वहीं  मरकच्चो के ग्रामीण क्षेत्रों में शुक्रवार को वट सावित्री पूजा के मौके पर सुहागिन महिलाओं में कोरोना वायरस के संक्रमण का डर नहीं दिखा।

इन महिलाओं ने पति के अटूट प्रेम में कोरोना वायरस के डर को भी मात दे दिया। वट सावित्री पूजा को लेकर शुक्रवार की सुबह से ही क्षेत्र के देवीपुर, बैद बर, बच्छेड़ीह, मरकच्चो, मुर्कमनाए  बरियारडीह आदि गांव के समीप लगे बरगद के पेड़ के नीचे महिलाएं नए-नए वस्त्र पहनकर पहुंचे और एक साथ पेड़  के चारों तरफ समूह बनाकर फेरा लगाकर बट सावित्री की पूजा अर्चना की। तथा एक दूसरे के मांग (माथे) में सिंदूर भर कर अपने अपने पति के लंबी उम्र की मंगल कामना की। चंदवारा प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में पति की लंबी उम्र के लिए महिलाएं उपवास रखकर वट वृक्ष की पूजा-अर्चना की। इस दौरान चंदवारा हाई स्कूल के समीप, मदनगुंडी, करौंजियां, ढाब थाम, तिलैया डैम, गैडा सहित अन्य जगहों पर महिलाओं ने वट वृक्ष में रक्षा सूत्र बांधकर पति के दीर्घायु के लिए कामना की तथा महिलाएं एक-दूसरे को सिंदूर लगाकर सुहागन होने की कामना की। वहीं सतगावां प्रखंड में वट सावित्री पूजा को लेकर मरचोई के लक्ष्मी भवन स्थित वट वृक्ष सहित बासोउीह, रामडीह, नासरगंज, गलवाती, खैरा, शिवपुर, नावाडीह, बदाल, खुंटा, समलडीह, बरियारडीह, डुमरी, राजावर, माधोपुर सहित दर्जनों धार्मिक स्थल पर सुहागिन महिलाएं सामूहिक रूप से वट वृक्ष की विधि-विधान के साथ पूजा अर्चना कर अपने पति की लंबी आयु के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना