पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आरोप:गृहरक्षकों का आराेप-ड्यूटी देने में लेते हैं पैसे, कमांडर बाेले-उम्रसीमा पार

कोडरमा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डीसी को आवेदन देने जाते गृहरक्षक। - Dainik Bhaskar
डीसी को आवेदन देने जाते गृहरक्षक।
  • जवानों ने कहा कि उनमें ड्यूटी देने के नाम पर 6 से 8 हजार रुपए लिए और ड्यूटी भी नहीं दी
  • कोरोना काल में चार महीने के काम का पैसा भी नहीं मिला
  • उम्र मामले पर गृहरक्षक बोले-प्रमाणपत्र के अनुसार नहीं हुए हैं 60 वर्ष
  • जानबूझकर मैनुअल गलत लिख दिया गया है

जिले में गृहरक्षकों को ड्यूटी देने के नाम पर कंपनी कमांडर द्वारा उनसे अवैध राशि की वसूली की जाती है। इस संबंध में गृहरक्षकों द्वारा जिला के उपायुक्त को आवेदन देकर कार्रवाई का आग्रह किया गया है। उपायुक्त को आवेदन देने वाले गृहरक्षक बढ़न भारती, सकिंद्र गिरि व राम विलास भारती ने कहा है कि कंपनी कमांडर द्वारा लगभग दो माह पूर्व उनलोगों से ड्यूटी देने के नाम पर अवैध राशि ली थी। गृहरक्षक बढ़न भारती ने कमांडर द्वारा 8 हजार रुपए लेने, सकिंद्र गिरि द्वारा 7 हजार व राम विलास भारती द्वारा 6 हजार रुपए लिए जाने की बात कही गई है।

इधर इन गृहरक्षकों का आरोप है कि अवैध राशि लिए जाने के दो माह बाद भी उन्हें ड्यूटी नहीं दी गई। वहीं जब वे लोग ड्यूटी मांगने कंपनी कमांडर के पास गए तो उन्होंने उनके 60 वर्ष की उम्र सीमा पूरी होने का हवाला देते हुए ड्यूटी देने से इंकार कर दिया गया।

गृहरक्षकों ने बताया है कि कोरोना काल के दौरान किए गए ड्यूटी के चार महीने का मानदेय भी उन्हें नहीं मिला है। वहीं उनका यह भी कहना है कि बहाली के दौरान उनलोगों से उम्र से संबंधित कोई प्रमाण पत्र नहीं लिया गया था। साथ ही मनमाने तरीके से उम्र लिख दी गई थी।

आधार कार्ड के अनुसार उनका अभी उम्र सीमा 60 वर्ष पूरा नहीं हुई है। साथ ही वे लोग हर दृष्टिकोण से ड्यूटी करने में सक्षम हैं। इन गृहरक्षकों का यह भी आरोप है कि कंपनी कमांडर द्वारा कई जवानों से उनकी उम्र सीमा समाप्त होने के बाद भी ड्यूटी ली जा रही है।

कोडरमा में 800 पद हैं सृजित 469 गृहरक्षक ही हैं कार्यरत

जिले में गृहरक्षकों के कुल 800 के करीब पद सृजित हैं, जबकि केवल 469 गृहरक्षक कार्यरत हैं। वहीं इन जवानों को ड्यूटी देने के लिए जिले में लगभग दो सौ पद ही विभिन्न विभाग अंतर्गत निर्धारित हैं। पोस्ट की संख्या कम होने व जवानों की संख्या ज्यादा होने के कारण चार-चार महीने के अंतराल पर जवानों की अदला बदली होती रहती है।

गृहरक्षकों का आराेप गलत, सब नियम के अनुरूप है : कमांडर

आरोप के संबंध में कंपनी कमांडर धीरज झा ने बताया कि जवानों को ड्यूटी देने के लिए जिला समादेष्टा की अध्यक्षता में कमेटी बनी हुई है। इसमें चार सदस्य होते हैं। पैसा लिए जाने के आरोप को उन्होंंने एक सिरे से खारिज करते हुए कहा कि आरोप लगाने वाले जवानों की उम्र सीमा समाप्त हो चुकी है। ऐसे में उन्हें ड्यूटी नहीं दी जा सकती।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें