पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्रवाई:मीनाक्षी देवी हत्याकांड के आरोपी ससुर और देवर गिरफ्तार, 3 परिजन अब भी हैं फरार

पत्थलगडा/गिद्धौर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 10 फरवरी को गला रेत की गई थी हत्या, गंडके जंगल में फेंक दिया था शव

गिद्धौर की चर्चित मीनाक्षी देवी हत्याकांड के मामले में पुलिस को दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। मीनाक्षी हत्याकांड के नामजद आरोपी जगदीश भारद्वाज व विकास भारद्वाज को गिरफ्तार कर लिया है।

मंगलवार को उन्हें कोर्ट में पेशी के बाद जेल भेज दिया गया। वहीं हत्याकांड के मुख्य आरोपी व मीनाक्षी के पति आकाश भारद्वाज अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पुलिस उसकी तलाश में की स्थानों में छापामारी कर रही है। मालूम हो कि 10 फरवरी को मीनाक्षी देवी की गला रेत कर हत्या दी गई थी।

मीनाक्षी का शव गिद्धौर थाना क्षेत्र के घटेरी मोड़ के गंडके जंगल से बरामद हुआ था। मृतिका के पिता कटिया निवासी विनय पांडेय ने गिद्धौर थाना में अपने दामाद व मीनाक्षी देवी के पति आकाश भारद्वाज, उसके ससुर जगदीश भारद्वाज, सास गीता देवी, देवर विकास भारद्वाज व ननद नीलम देवी को नामजद आरोपी बनाया था। हत्याकांड के बाद सभी आरोपी फरार थे।

जल्द अन्य आरोपियों को पकड़ेंगे : थाना प्रभारी

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक ऋषभ कुमार झा ने एसआईटी का गठन किया था। सोमवार की देर रात टीम गिद्धौर थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह के नेतृत्व में सदर प्रखंड के आसानी गांव पहुंची। यहां छापामारी अभियान चलाकर हत्या के आरोपी मीनाक्षी के ससुर जगदीश और देवर विकास को गिरफ्तार कर लिया गया।

थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि मीनाक्षी के हत्यारों की धरपकड़ के लिए पुलिस लगातार अभियान चला रही है। जल्द ही मुख्य आरोपी आकाश समेत अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी एक जान्य हत्याकांड में शामिल रहे हैं इसिलए जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें