पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीन लगवाने के लिए एक शर्त यह भी:पहले आधा-अधूरा शाैचालय का काम करवाएं, फिर टीका

इटखोरी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैठे स्वास्थ्यकर्मी और आक्रोशित ग्रामीणों को समझाते मुखिया सीताराम दांगी। - Dainik Bhaskar
बैठे स्वास्थ्यकर्मी और आक्रोशित ग्रामीणों को समझाते मुखिया सीताराम दांगी।

बघमुंडी गांव में रविवार को ग्रामीणों को कोरोना का वैक्सीन देने पहुंचा मोबाइल वैक्सीनेशन वाहन को ग्रामीणों ने घंटों घेर लिया। यहां आक्रोशित ग्रामीणों ने कहा कि हम लोगों के गांव में पिछले कई माह पूर्व एक संस्था द्वारा शौचालय का आधा-अधूरा निर्माण कार्य कर संवेदक भाग गया है। जिसके कारण घर से बाहर खुले में मजबूरन शौचालय जाना पड़ रहा है। इसलिए जब तक शौचालय का निर्माण कार्य पूर्ण नहीं होगा, तब तक हम सभी गांव के ग्रामीण वैक्सीन नहीं लेंगे।

सूचना पाकर मुखिया सीताराम दांगी तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे। यहां मुखिया दांगी ने अपने मोबाइल का स्पीकर ऑन कर इसकी शिकायत बीडीओ सह सीओ विजय कुमार से की। बीडीओ कुमार ने ग्रामीणों को मोबाइल पर ही आश्वासन दिया कि आपलोग फिलहाल कोरोना का वैक्सीन ले लें। रही बात शौचालय निर्माण कार्य की, तो इसकी जांच जल्द ही कराई जाएगी।

जांच के बाद दोषियों के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी। साथ ही आपलोगों का शौचालय भी बढ़िया से बनाया जाएगा। इसके बाद गांव के 27 ग्रामीणों ने वैक्सीन ली। यहां के बाद मोबाइल वाहन वैक्सीनेशन पंचायत के बमनडीहा, करनी, चोरकारी, खरौंधा, नावाडिह और पचमों तथा बघमुंडी मिलाकर 45 उम्र से ऊपर कुल 52 लोगों ने वैक्सीन दी।

वैक्सीनेशन शिविर को सफल बनाने में एनएम प्रियंका सिन्हा, सहयोगी विकी कुमार, रोजगार सेवक प्रवीण सिंह, पंचायत सेवक सुनील लाकड़ा, मुखिया सीताराम दांगी और बिंदेश्वरी आदि मुख्य रूप से जुटे रहे।

खबरें और भी हैं...