कानूनी कार्रवाई:अनुसूचित जाति, जनजाति को जल्द सहायता राशि दें

कोडरमा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उपायुक्त आदित्य रंजन की अध्यक्षता में अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत जिला सतर्कता व अनुश्रवण समिति की बैठक बुधवार को समाहरणालय सभागार में हुई। बैठक में अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 के तहत राहत राशि के भुगतान के संबंध में उपायुक्त ने पीड़ितों को नियामानुकूल देय राशि का भुगतान सुनिश्चित करने का निर्देश संबंधित अधिकारी को दिया। बैठक में समिति द्वारा प्रस्ताव लिया गया कि दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। उल्लेखनीय हो कि बैठक में कुल 43 मामलों में पीड़ितों के मुआवजे भुगतान के संबंध में विचार-विमर्श किया गया।

मामलों में मुख्यत मार-पीट, गाली-गलौज, घर में घुसकर मारपीट करने, चांदी का जेवर ले लेने, मोबाइल छीन लेने, यौन शोषण, जाति सूचक शब्द कह कर अपमानित करने सहित अन्य अत्याचार के मामले शामिल हैं। मौके पर उपायुक्त ने कहा कि विभाग से प्राप्त मार्गदर्शन के अनुसार अत्याचार मामलों में पीड़ितों को भुगतान किए जाने वाले नियमानुकूल देय राशि देना सुनिश्चित करेंगे। साथ ही अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 के विभिन्न धाराओं का व्यापक रुप से प्रचार-प्रसार करने का भी निर्देश संबंधित अधिकारी को दिया। उन्होंने पुलिस प्रशासन को अत्याचार के लंबित मामलों में प्राथमिकी व आरोप पत्र सहित सभी मामलों पर रिपोर्ट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। मौके पर पुलिस अधीक्षक कुमार गौरव, उप विकास आयुक्त लोकेश मिश्रा,अपर समाहर्ता अनिल तिर्की, अनुमंडल पदाधिकारी मनीष कुमार, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अशोक कुमार, डीएसपी संजीव कुमार सिंह, समिति के सदस्यगण व अन्य लोग मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...