आपूर्ति विभाग:कोडरमा के 6 प्रखंडों में मात्र एक में ही एमओ

कोडरमा22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के आपूर्ति विभाग अंतर्गत प्रखंडों में मार्केटिंग ऑफिसर व सहायक गोदाम प्रबंधक के पद पिछले कई सालाें से खाली है। इनके स्थान पर दूसरे विभागों के पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर विभाग द्वारा गरीबो के लिए संचालित अंत्योदय, ग्रीन कार्ड व प्रधानमंत्री जन कल्याण योजनाओं का अनुश्रवण व पर्यवेक्षण कराया जा रहा है। साथ ही इनके जिम्मे ही लाभुकों के राशनकार्ड बनाने से लेकर संपन्न लोगों के राशन कार्ड को समाप्त करने का कार्य किया जा रहा है। हाल यह है कि दूसरे विभागों के प्रतिनियुक्त इन पदाधिकारियों में कई के पास अपने विभाग के अलावा आपूर्ति विभाग अंतर्गत प्रखंड के एमओ व सहायक गोदाम प्रबंधक के पद भी संभाले जा रहे हैं। जिससे उक्त पदाधिकारियों के संबंधित विभागों के भी कार्य प्रभावित होते रहे है।

कोडरमा प्रखंड अंतर्गत प्रखंड कृषि पदाधिकारी के पद पर पदस्थापित रविशंकर वर्णवाल फिलहाल बीएओ के अलावा प्रखंड के मार्केटिंग ऑफिसर के अलावा सहायक गोदाम प्रबंधक के पद भी संभाल रहे है। इनके जिम्मे कृषि विभाग अंतर्गत प्रखंडों में किसानों के लिए चलाए जा रहे कई महत्वाकांक्षी योजनाओं की अनुश्रवण के अलावा आपूर्ति विभाग अंतर्गत गरीबों के बीच सख्ती अनाज योजना का सही से वितरण के अलावा गोदाम प्रबंधक के तौर पर गोदाम से पीडीएस दुकानों तक अनाज को पहुंचाने का मॉनिटरिंग किया जा रहा है। इसी तरह मरकच्चो प्रखंड में सहकारिता विभाग अंतर्गत प्रखंड प्रसार पदाधिकारी के तौर पर पदस्थापित मो. अशफाक अहमद अपने विभाग के अलावा आपूर्ति विभाग के एमओ और एजीएम के पद भी संभाल रहे है। वहीं सतगावां प्रखंड में भी यही हाल बना हुआ है।

यहां प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी के तौर पर पदस्थापित अर्जुन कुमार अपने विभाग के अलावा प्रखंड के एमओ के भी पद संभाल रहे है। यहां जन सेवक कपिलदेव यादव को एजीएम का प्रभार दिया गया है। वहीं डाेमचांच में पूरे जिले में एक मात्र एमओ विभाग की ओर से पदस्थापित है। यहां भी एजीएम के खाली पड़े पद पर जनसेवक की प्रतिनियुक्ति की गई है। चंदवारा प्रखंड में सहकारिता प्रसार पदाधिकारी कुंदन सिन्हा को एमओ का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। वहीं एजीएम के पद का प्रभार वहां के जनसेवक ही पिछले कई माह से संभाल रहे है। वहीं जयनगर प्रखंड में एमओ के खाली पड़े पद पर फिलहाल बाजार समिति के सचिव रविरंजन की प्रतिनियुक्ति की गई है। वहीं एजीएम के खाली पड़े पद का प्रभार वहां के जनसेवक को दिया गया है।

एक ही पदाधिकारी के पास अपने विभाग के अलावा आपूर्ति विभाग के दो पदों पर कार्य करने से दोनों विभागों के जन कल्याणकारी कार्यों की सही से मॉनिटरिंग नहीं हो पा रही है। सहकारिता विभाग के प्रखंड में पदस्थापित पदाधिकारियों के जिम्मे पैक्सो का सही से संचालन पर निगरानी रखते हुए किसानों के लिए बीज वितरण, धान क्रय सहित अन्य योजनाओं की निगरानी रखने का है। मगर उनका ज्यादा समय अनाज वितरण को लेकर ही बीत रहा है।

खबरें और भी हैं...