बदहाली / हेरहंज के डोडाग टोले तक पहुंचने के लिए सड़क नहीं, बिजली-पानी भी नहीं मिल रहा

No road, no electricity and no water to reach Dodag hamlet of Herhanj
X
No road, no electricity and no water to reach Dodag hamlet of Herhanj

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

हेरहंज. प्रखण्ड मुख्यालय से महज पांच किलोमीटर दूर पातम डाटम रोड में बसे हेरहंज गांव के डोडांग टोला में निवास करने वाले आदिम जनजाति परिवार के लोग सड़क, बिजली, पानी, रोजगार जैसी समस्याओं से ग्रसित है। सरकार आदिम जनजाति परिवार के लोगों के विकास के नाम पर पानी की तरह पैसे खर्च कर रही।

उसके बाद भी उक्त टोले में निवास करने वाले आदिम जनजाति परिवार के लोग विकास योजनाओं से वंचित हैं। यहां पर रहने वाले ग्रामीण आज भी सालों भर चुआंड़ी का पानी पीते है।पानी के लिए महिलाओं को ज्यादा परेशानी होती है।महिलाएं नाले में बनाये गए चुआंड़ी से पानी लेकर पथरीले रास्ते से होकर आवाजाही करते हैं।जिससे हमेशा खतरा बना रहता है।

हेरहंज के डोडांग टोला का मामला, 15 घरों के इस टोले में रहते हैं करीब 30 लोग, सभी व्यवस्था से नाराज

पूर्व वार्ड सदस्य भादे परहिया ने बताया कि हमलोग समस्याओं को लेकर कई बार मुखिया, पंचायत सेवक, बीडीओ से मुलाकात भी की लेकिन किसी ने नहीं सुनी। यहां पर  पर आदिम जन जाति टोले में 10 से 15 घरों के बीच 25 से 30 लोग निवास करते हैं। टोले में निवास करने वाले जानकी परहिया, भादे परहिया, सूरजदेव, महेन्द्र परहिया , सावन परहिया, रजमनिया देवी रजोया देवी समेत कई लोगो ने बताया कि यहां पर न तो हमलोग को आने जाने के लिए सड़क है और न बिजली पानी की व्यवस्था है। हमलोग को कोई सुनने वाला नहीं है। ग्रामीणों ने कहा कि लगभग 10 माह पूर्व हर घर से तीस रुपये लेकर बिजली बोर्ड घरों में लगाया गया, लेकिन आज तक बिजली नहीं आई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना