नवरात्र का आयोजन:शारदीय नवरात्र को लेकर माहौल हुआ भक्तिमय

पत्थलगडा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शारदीय नवरात्र को लेकर क्षेत्र में उत्सव का माहौल है और लोग भक्ति में डूबे हुए हैं। नवरात्र के पहले दिन पत्थलगडा के कई गांवों में विशाल कलश यात्रा निकाली गई। यहां पांच स्थानों में सार्वजनिक रूप से सहित कई स्थानों कलश स्थापित कर मां दुर्गा की विधिवत पूजा-अर्चना शुरू हो गई है। आज पत्थलगडा प्रखंड मुख्यालय में गाजे-बाजे के साथ सैकड़ों महिलाओं ने कलश यात्रा में भाग लिए।

बकुलिया नदी से जल भरकर पत्थलगड़ा, सिंघानी, बरवाडीह व अन्य गांवों का परिभ्रमण करते हुए यज्ञ मंडप में प्रवेश किया। वही कुबा के ग्रामीणों ने 15 किलोमीटर चलकर अनगड़ा, बनवारा बरवाडीह, पत्थलगडा चौक, दुंबी होते जैजला नदी पहुंचे। यहां कलश में जल भरकर बेलहर और चौथा के रास्ते यज्ञ मंडप में प्रवेश किया। यहां मां कौलेश्वरी मंदिर परिसर और कूबा मंडप में शारदीय नवरात्र का आयोजन किया गया है।

वहीं नवाडीह में आचार्य उमेश पांडे के नेतृत्व में विधिवत पूजा अर्चना की जा रही है। यहां लगभग 75 वर्षों से नियमित रूप से शारदीय नवरात्र का आयोजन हो रहा है। नोनगांव में भी कलश यात्रा निकाली गई और यहां ग्रामीण भक्ति भाव से मां दुर्गा की आराधना में लीन है।

वहीं प्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन स्थल लेंबोईया पहाड़ी में भी कलश स्थापित कर मां की आराधना की जा रही है। यहां स्थित सिद्धपीठ स्थल मां दक्षिणेश्वरी देवी चामुंडा मंदिर में दशकों से नवरात्र में विशेष पूजा अर्चना की जा रही है। आज विभिन्न गांवों में आयोजित कलश यात्रा में पत्थलगडा के पंचायत प्रतिनिधि और राजनीतिक दलों के लोग व गणमान्य सहित सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण भाग लिए।

खबरें और भी हैं...