अब वैक्सिनेशन पर आखिरी चोट करने का समय:​​​​​​​कोडरमा में 16 से 20 जनवरी तक महाअभियान, टास्क फोर्स गांव-गांव जाकर टीका लगाने के लिए प्रेरित करेगी

कोडरमाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक में शामिल उपायुक्त व अन्य पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
बैठक में शामिल उपायुक्त व अन्य पदाधिकारी।

16 दिसंबर से आगामी 20 जनवरी तक कोविड वैक्सीनेशन को लेकर महाअभियान चलाया जाना है, जिसके तहत जिला के शत-प्रतिशत योग्य लाभार्थियों का कोविड का प्रथम डोज दिया जाना है। इस कार्य के लिए जिला स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया गया है। जिसको लेकर उपायुक्त आदित्य रंजन की अध्यक्षता में मंगलवार को समाहरणालय सभागार में बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक में जिला के पदाधिकारी व विडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से सभी बीडीओ, सीओ व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी शामिल थे। मौके पर उपायुक्त रंजन ने जिले में कोविड वैक्सीनेशन को लेकर शत-प्रतिशत लाभार्थियों को वैक्सीनेट करने को लेकर विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा करते हुए कई आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने बीडीओ, सीओ व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को लाभार्थियों को चिन्हित करते हुए शत्-प्रतिशत टीकाकरण से आच्छादित करने का निर्देश दिया, ताकि जिला में कोई भी लाभार्थी टीकाकरण से वंचित न रहे, जिसपर पूरा ख्याल रखने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि टीकाकरण को लेकर गांव स्तर पर टीका सभा आयोजित करें और ग्रामीणों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि वैसे लाभार्थी जिन्होंने टीका नहीं लिया है, उन्हें चिन्हित करते हुए सूची तैयार करें और उन्हें टीका लगवाएं।

बैठक में डीसी ने कोविड -19 के नए वेरियंट ओमीकॉर्न व कोविड-19 के तीसरे लहर की संभावना को देखते हुये शत- प्रतिशत कोविड टीकाकरण का कार्य संपन्न करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि हर प्रखंड, पंचायत, नगर परिषद् व नगर पंचायत क्षेत्र अंतर्गत क्यूआर टीम का गठन करते हुए घर-घर जाकर टीकाकरण करें और घर-घर दस्तक कार्यक्रम चलाएं।

उन्होंने कहा कि स्कूल के बच्चों के अभिभावकों के साथ बैठक करें और जिन्होंने अभीतक टीका नहीं लिया है, उन्हें टीका लेने के लिए प्रेरित करें और दूसरों को भी टीका लेने के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने जन वितरण प्रणाली दुकान में राशन उठाव करने वाले कार्डधारी को टीका लेने के लिए प्रेरित करने और जो लोग अबतक वैक्सीनेशन नहीं लिये है, उन्हे चिन्हित करते हुए टीका लगवाने की बात कही।

साथ ही डोर टू डोर सर्वे में जितने भी प्रवासी श्रमिक है, जो वर्तमान में वापस आये है, उन लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है या नहीं इसकी समीक्षा कर छूटे हुए को टीकाकरण कराने का निर्देश दिया। उन्होंने स्थानीय जनप्रतिनिधियों, विभिन्न एसोसिएशन, सामाजिक संगठन के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करके सभी लाभार्थियों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने व पंचायत स्तर पर नोडल पदाधिकारी और सेक्टर कामांडर नियुक्त करने की बात कही।

मौके पर डीडीसी लोकेश मिश्रा, एसडीओ मनीष कुमार, सीएस डीपी सक्सेना, जिला पंचायती राज पदाधिकारी पारस यादव, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी आरती कुमारी, जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी सुभाष प्रसाद यादव, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी शिवनंदन बड़ाईक, नगर प्रशासक नगर पंचायत कोडरमा, नगर प्रशानसक नगर परिषद् झुमरी तिलैया, बीडीओ, सीओ सहित अन्य लोग मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...