पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आधारभूत संरचना:संघ ने प्रदेश के मंत्री डाॅ. रामेश्वर उरांव के बयान का जताया विरोध

कोडरमा15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

झारखंड प्लस टू शिक्षक संघ ने प्रदेश के वित्त व खाद्य आपूर्ति मंत्री डाॅ. रामेश्वर उरांव द्वारा सरकारी स्कूलों में पढ़ाई का माहौल नहीं है के बयान पर कड़ा विरोध जताया है। संघ के जिलाध्यक्ष पंकज कुमार ने कहा कि सरकार की असफलता की निशानी है प्राइवेट विद्यालय। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री द्वारा कहा जाना कि निजी स्कूल न होते तो गुणवत्तापूर्ण शिक्षा में झारखंड प्रदेश पिछड़ जाता।

यह दुर्भाग्यपूर्ण व गैर जिम्मेदाराना बयान है, जिसका संघ पुरजोर विरोध करती है। उन्होंने कहा कि मंत्री को ऐसे बयान से बचना चाहिए और माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर सरकारी विद्यालय में कुछ कमियां है तो इसका जिम्मेदार सरकार है।

उन्होंने सरकारी विद्यालयों की कमियों को गिनाते हुए कहा कि विद्यालय में आधारभूत संरचना का अभाव के अलावा शिक्षकों की कमी, लाइब्रेरी व क्लर्क का अभाव सहित अन्य समस्याएं है। इसके बावजूद भी शिक्षक अपनी जिम्मेदारी पूरी ईमानदारी के साथ निभा रहे है। उन्होंने कहा कि प्राइवेट विद्यालय आज के समय में सिर्फ पैसा कमाना और लाभ अर्जित करने वाली संस्था की तरह काम कर रही है। फीस, बस भाड़ा, विकास शुल्क, किताबों के नाम पर अभिभावकों से हजारों रुपए वसूला जाता है।

खबरें और भी हैं...