गांव में दहशत का माहौल:नदी पर पुल निर्माण का काम बंद, गांव में पसरा है सन्नाटा

लातेहार9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विष्णु के हत्या के बाद बिनगड़ा गांव में पसरा सन्नाटा - Dainik Bhaskar
विष्णु के हत्या के बाद बिनगड़ा गांव में पसरा सन्नाटा
  • दो दिन पहले जेजेएमपी के उग्रवादियाें ने लेवी के लिए कर दी थी बिनगड़ा निवासी मुंशी की हत्या

जेजेएमपी उग्रवादी संगठन द्वारा पुल निर्माण कार्य में लगे मुंशी विष्णु देव सिंह की शुक्रवार की शाम निर्मम हत्या के बाद रविवार को भी बिनगड़ा गांव में सन्नाटा पसरा रहा। साथ ही नरेशगढ़,कोने, बरेनी, बनबिरवा, तरवाडीह समेत कई गांवों में भी दहशत का माहौल है।

हालांकि बिनगड़ा गांव में कुछ महिलाएं दिखाई दी। लोगों में इस बात को लेकर खौफ है कि कहीं जेजेएमपी के उग्रवादियों के खिलाफ बोल कर हम आफत मोल न ले लें। कोने गांव के ग्रामीणों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा कि जेजेएमपी के वर्चस्व वाले इलाके में पहली बार इस तरह की घटना को अंजाम दिया गया है। संगठन के किसी भी उग्रवादी ने कभी भी गांव के लोगों को अपना निशाना नहीं बनाया। हालांकि, गलती करने पर उन्हें सुधारने के लिए उन्हें पीटा व चेतावनी देकर छोड़ा गया है।

ग्रामीणों ने दबी जुबान से यह भी कहा कि जेजेएमपी सुप्रीमो पप्पू लोहरा के गृह इलाके में हुई इस घटना ने हमें चौंका दिया है। ग्रामीणों ने यह कहते हुए चुप्पी साध ली की उग्रवादियों का न कोई अपना गांव होता है और न ही गांव के अपने लोग। मालूम हो कि विष्णु देव हंसमुख व्यक्ति था। जिसे सभी लोग पसंद करते थे। कोने पिकेट के पास वह अपने पिता के साथ चाय-पकौड़ी की दुकान को चलाने में सहयोग करता था। विष्णु की हत्या से ग्रामीण काफी दुखी हैं। हत्या के बाद से धरधरी नदी में बन रहे पुल निर्माण का कार्य भी बंद है।

आरोपी पकड़े जाएंगे : एसपी

इस संबंध में एसपी प्रशांत आनंद ने कहा कि जेजेएमपी के खिलाफ पुलिस लगातार अभियान चलाकर कार्रवाई करती रही है। हथियार के बल पर इस तरह की निर्मम हत्या करने वालों को नहीं छोड़ा जाएगा। इस घटना में शामिल अन्य लोगों की भी पहचान की जा रही है।

खबरें और भी हैं...