लातेहार में संदिग्ध अवस्था में मिला युवक का शव:परिजनों ने जताई हत्या की आशंका, घटनास्थल से बाइक बरामद

लातेहारएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घटनास्थल से बरामद युवक की बाइक की जांच करते पुलिस जांच दल के अधिकारी - Dainik Bhaskar
घटनास्थल से बरामद युवक की बाइक की जांच करते पुलिस जांच दल के अधिकारी

झारखंड के लातेहार जिले के बारियातू टीओपी क्षेत्र अंतर्गत रामदेव मोड़ के पास बुधवार को एक युवक का शव संदिग्ध अवस्था में बरामद किया गया। युवक की पहचान सुशील लोहरा पुत्र सहेशर लोहरा के रूप में की गई है। युवक की उम्र करीब 23 वर्ष थी। वह अमरवाडीह पंचायत के रहिया का रहने वाला था। युवक के शरीर पर कई जगह गंभीर चोट के निशान हैं। शव मिलने की सूचना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना के बाद बालूमाथ थानाप्रभारी धर्मेंद्र कुमार महतो व बारियातू टीओपी प्रभारी कुंदन कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। शव को सबसे पहले देखने वाले ग्रामीणों से इस बारे में पूछताछ की।युवक की हत्या की आशंका को देखते हुए पुलिस ने अपनी जांच प्रारंभ कर दी है। घटनास्थल से युवक की बाइक भी बरामद की गई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए लातेहार भेज दिया गया है।

जानकारी मिलने के बाद युवक के परिजन भी मौके पर पहुंचे। मरने वाले युवक की मां पूर्णिमा देवी ने बताया कि बेटा कल रात में नौ बजे परिवार के साथ खाना खाने के बाद घर के एक कमरे में सोने चला गया था। सुबह जब कमरे का दरवाजा नहीं खुला तो कमरे में देखने का प्रयास किया गया।इसमें खिड़की की ईंट हटी हुई दिखी। घर में युवक की बाइक भी नहीं थी। इसी बीच पता चला कि युवक का शव घर से थोड़ी दूरी पर सड़क के किनारे पड़ा हुआ है। पीड़ित परिवार ने पुलिस को दिए अपने बयान में युवक की पीट पीट कर हत्या किए जाने की आशंका व्यक्त की है। पुलिस ने मामले को बेहद गंभीरता से लिया है।

स्नातक की पढ़ाई कर रहा था युवक

परिजनों ने बताया कि युवक स्नातक की पढ़ाई कर रहा था। फिलहाल वह बीए सेकेंड ईयर का छात्र था। वह काफी मिलनसार स्वभाव का था। युवक की मौत की सूचना के बाद पुलिस व परिवार के लोगों ने उसके कमरे की तलाशी ली। इसमें पता चला कि कमरे में रखा एक बक्सा खुला हुआ थाा। युवक की मौत के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। सुशील तीन भाईयों में सबसे छोटा था। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि युवक घर से क्यों निकला और क्या वह किसी के साथ गया था।