अवैध खनन:पत्थर लीजधारक जीएम लैंड, वन विभाग की जमीन पर कर रहे हैं अवैध खनन

लातेहार8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • उसमें लगभग 100 फीट लंबा चौड़ा बिहार सरकार की जमीन में खनन कर दिया गया है

लातेहार जिला के गोनिया ग्राम के वीर वीर टोला में लीज धारक पत्थर माफिया द्वारा अपने लीज स्थान से हटकर बिहार सरकार की जमीन पर अवैध खनन धड़ल्ले से किया जा रहा है इसकी सूचना ग्रामीणों द्वारा पूर्व में भी जिले के उपायुक्त व खनन पदाधिकारी को भी दी गई है लेकिन जिला खनन पदाधिकारी की मिलीभगत के कारण इस पर लगाम नहीं लगाया गया है और बल्कि धड़ल्ले से अवैध खनन का कार्य जोरों पर है वीर वीर ग्राम निवासी किशोर राणा ने जिला खनन पदाधिकारी एवं उपायुक्त लातेहार को लिखित आवेदन देकर कहा है कि ग्राम वीर वीर में पुराना खाता संख्या 198 ,199 एवं 200 में पत्थर माइंस लीज किया गया है व अभी चालू है लेकिन वर्तमान में 195 198 एवं 199 बिहार सरकार जीएम लैंड दर्ज है और अभी जिस जमीन पर खनन किया जा रहा है।

उसमें लगभग 100 फीट लंबा चौड़ा बिहार सरकार की जमीन में खनन कर दिया गया है व खनन कार्य से निकलने वाले मिट्टी को विरवीर ग्राम के कालीकरण पथ पर फेंक दिया गया है जिसे ओक कालीकरण सड़क मिट्टी में तब्दील हो गया है ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा है कि उक्त माइंस में जो खनन कार्य किया जा रहा है उसमें माइनिंग एक्ट का खुला खुला उल्लंघन किया जा रहा है जो ब्लास्टिंग कराया जा रहा है वह सारे नियम कानून को ताक में रखकर कराया जाता है तथा बगल में एक पढ़ने वाले पुलिया को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया है। ग्रामीणों द्वारा मना करने पर लीज धारक एवं उसके सहयोगियों द्वारा कई तरह की धमकी व झूठे केस में फंसा देने की बात कही जाती है। ग्रामीणों ने जिले के उपायुक्त से मांग करते हुए कहा है कि सरकारी जमीन में अवैध खनन पर तत्काल रोक लगाई जाए ।

खबरें और भी हैं...