बैठक / शिक्षकों को राशन कार्ड जांच से अलग रखने की मांग की

Demanded to keep teachers out of ration card check
X
Demanded to keep teachers out of ration card check

  • झाप्रशिसं का एक प्रतिनिधिमंडल विधायक सह मंत्री प्रतिनिधि से मिला, परेशानियों से कराया अवगत

दैनिक भास्कर

Jun 04, 2020, 04:00 AM IST

लोहरदगा. झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ का एक प्रतिनिधिमंडल विधायक सह मंत्री प्रतिनिधि निशिथ जायसवाल से मिला। संघ के प्रधान सचिव किशोर कुमार वर्मा ने शिक्षकों को राशन कार्ड जांच से विमुक्त करने एवं काेराेना संबंधी आवश्यक कार्यों में 50 वर्ष से ऊपर के शिक्षकों की प्रतिनियुक्ति नहीं करने की बात रखी। कहा अत्यावश्यक हो तो काेराेना वारियर्स के तहत सारी सुविधा के साथ बीमा कराए जाने संबंधित मांगे रखी। 
वर्मा ने बताया कि विगत 35 वर्षों से जिला में प्रोन्नति नहीं मिला है। विगत 2 वर्षों से वेतन सरंक्षण के नाम पर सैकड़ों शिक्षकों के साथ अन्याय किया जा रहा है और जूनियर /समकक्ष शिक्षकों के बराबर सीनियर शिक्षकों को वेतन सरंक्षण का लाभ जिला पदाधिकारी नहीं देकर मानसिक तनाव एवं केवल दण्डित करने का प्रयास कर रहे हैं। शिक्षकों को एक एक दिन का वेतन लंबित रख कर प्रताड़ित किया जा रहा है। जिससे जिला के शिक्षक काफी उपेक्षित और मानसिक तनाव में शिक्षण कार्य कर रहे है।
इसपर जायसवाल ने शिक्षकों से आग्रह किया कि वर्तमान परिवेश में सरकार के समक्ष बहुत परेशानी है और इस वैश्विक महामारी में लॉक डाउन में सभी की सामूहिक जिम्मेवारी होने पर ही सरकार बेहतर जनभागीदारी का कार्य कर सकती है। जो भी व्यक्ति सक्षम है वैसे कार्डधारी स्वेच्छा पूर्वक से अपना राशन कार्ड विभाग को वापस देते है तो गरीब असहाय और जरूरतमंद लोगों को राशन उपलब्ध कराया जा सकेग। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना