दियों से दिवाली रोशन:मिट्‌टी के दीए की रौशनी, आतिशबाजी के शोर से जगमगाया लोहरदगा

लोहरदगा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पटाखा फोटते बच्चे। - Dainik Bhaskar
पटाखा फोटते बच्चे।

दीपावली के मौके पर लोहरदगा के विभिन्न स्थानों पर मां काली व लक्ष्मी की प्रतिमा रखकर श्रद्धालुओं ने धूमधाम से पूजा अर्चना की। इस बीच चारों ओर दीए की रोशनी व आतिशबाजियों की शोर से पूरा जिला जगमगा व गड़गड़ा उठा। वहीं युवाओं से लेकर बच्चों तक में आतिशबाजी करने की उत्साह दिखी। सभी ने जमकर आतिशबाजियां की और एक दूसरे को बधाई दी। प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी निंगनी स्थित साहू मुहल्ला व देवघरिया मुहल्ला में मां काली की पूजा अर्चना परंपरागत रूप से की गई। वहीं वीर शिवाजी चौक स्थित श्रीश्री सिद्धीदात्री दुर्गा मंदिर, श्रीहरि बाबा काली मंदिर व रेलवे स्टेशन में मां काली का भव्य पूजन किया गया। निंगनी पूजा स्थल पर परंपरानुसार दर्जनों बकरों की बलि दी गई। मौके पर भक्तों ने प्रतिमाओं का अवलोकन किया। इधर जिला पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था की कमान बेहतर रूप से संभाली। जिले में दीपावली का त्योहार शांतिपूर्ण ठंग से संपन्न हुआ। इसके अलावा प्रखंडों में भी धूमधाम से दीपावली का पर्व मनाया गया। इधर जिला प्रशासन द्वारा 8 से 10 बजे तक पटाखा फोड़े जाने का समय निर्धारित किया गया था। जिसका गंभीरता से पालन होता नहीं दिखाई पड़ा। वहीं पॉल्युशन को लेकर आंकड़ा जिला में अधिकारी नहीं होने के कारण प्राप्त नहीं हो पाया। कई स्थानों पर लक्ष्मी हुई पूजा, समृद्धि की कामना दीपावली के मौके पर जिले में कई स्थानों पर लक्ष्मी पूजा का आयोजन किया गया। इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा धन और वैभव प्राप्ति के लिए किया जाता है। सभी अपने घरों एवं दुकानों में मां लक्ष्मी और गणेश की पूजा अर्चना करते हैं। गुरूवार की रात दीपावली के दिन संध्याकाल से देर रात तक मां लक्ष्मी, गणेश की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना की गई।

कैरो में भी धूमधाम से मनी दीपावली कैरो प्रखंड मुख्यालय में कैरो सहित गजनी, नगजुआ, हनहट, नरौली समेत सभी गांव में हर्षोल्लास के साथ दीपावली का पर्व मनाया गया। लोगों ने अपने-अपने घरों एवं दुकानों में भगवान लक्ष्मी गणेश की पूजा अर्चना कर सुख-समृद्धि की कामना की तथा दीप प्रज्वलित कर आतिशबाजी की। वहीं लोगों की माने तो राष्ट्रहित में चीन निर्मित सामान का बहिष्कार किया गया। जिसके कारण अधिकांश घरों में लोगों ने मिट्टी के दीप प्रज्वलित किए। कैरो प्रखंड मुख्यालय में जगमगाहट के बीच व्यवसायिक प्रतिष्ठान खुले देखे गए। जहां देर रात तक मां लक्ष्मी-गणेश की पूजा अर्चना होती रही। लोगों ने जुआ भी खेला।

कई स्थानों पर मनाया सोहराई पर्व : जिले के विभिन्न स्थानों पर दीपावली के दूसरे दिन सोहराई पर्व मनाया गया। इस दौरान क्षेत्र के लोगों ने अपने पशुओं को चारा खिलाकर पूजा अर्चना की। साथ ही सभी पशुओं को एक स्थान पर एकत्रित कर मेला के रूप में सोहराई पर्व मनाया।

खबरें और भी हैं...