पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नन्हे रोजेदारों का जज्बा:नन्हे बच्चे भी गर्मी और प्यास को मात देते हुए, रोजा रख पांच वक्त की नमाज व कुरआन की तिलावत कर रहे

मरकच्चो3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नन्हे रोजेदार - Dainik Bhaskar
नन्हे रोजेदार
  • बच्चों ने कहा-इबादत करने में काफी खुशी मिलती है और दिल को सुकून

कोरोना महामारी और पड़ रही भीषण गर्मी के बावजूद मुस्लिम धर्मावलंबियों ने इबादतों का त्यौहार में रमज़ान के दौरान रोजा रखने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। कोविड नियमों का पालन करते हुए अपने घरों में रहकर इबादत कर अल्लाह से महामारी से बचाव के लिए निजात मांग रहे हैं। वहीं दूसरी ओर नन्हे बच्चे भी इबादत करने में बड़ों से पीछे नहीं है। गर्मी व प्यास को मात देते हुए रोजा रख कर पांच वक्त की नमाज व पवित्र कुरआन की तिलावत में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। इससे लोगों में अल्लाह की इबादत करने की प्रेरणा भी मिल रही है। रोजेदार सानिया परवीन 13वर्ष ने कहा की घर के सदस्यों के साथ अल्लाह की इबादत करने में काफी खुशी मिलती है। रोजा रखकर अल्लाह को याद करने में दिल को बहुत सुकून मिलता है।

तानिया परवीन 12वर्ष, ने कहा कि वह कोरोना काल में लॉकडाउन का पालन करते हुए रोजा रखकर अल्लाह को याद करते हुए कुरआन पाक की तिलावत करती हूं और नमाज के बाद कोरोना जैसी महामारी बिमारी से जिंदगी और मौत से जूझ रहे लोगों के लिए अल्लाह से निजात के लिए दुआ करते रहती हूँ। वहीं अक्शा प्रवीन 9 वर्ष, ने कहा कि मम्मी के साथ मैं भी रोजा रखता हूँ। रोजा रखने से दिल की बुराइयां दूर होती और रोजा इंसान को नेक दिल बनाता है। फैसल खान 14 वर्ष, का कहना है कि वे गत तीन वर्षों से रोजा रख रही है।और दिन में पवित्र कुरआन की तिलावत के साथ साथ नमाज अदा कर खुदा से अमन चैन भाईचारे व खुशहाली की दुआ करती हूं। मो अहमद रजा तीन वर्ष माँ के साथ सुबह उठ जाता है। सेहरी करता है और शाम को परिवार के सदस्यों के साथ इफ्तार कर माँ के इशारे पर नमाज भी पढ़ने का प्रयास करता है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें