पुलिस वाले की दरियादिली:थानेदार ने काटा चालान, फिर खुद ही भरा जुर्माना

मयूरहंडएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • पत्नी संग बाइक से जा रहे पति ने हेलमेट नहीं पहना था, नवदंपती की जेब में नहीं

पुलिस वाले ने जिस बाइक चालक को हजार रुपए से अिधक का चालान काटा उसे खुद पुलिस ने ही भरा। बाइक चालक नव दंपती ने जब पैसे नहीं होने की मजबूरी बताई तो मयूरहंड के थानेदार का दिल पसीज गया।  आमतौर पर पुलिस वाले बहुत सख्त और निर्दयी माने जाते हैं। लेकिन  कई पुलिसवाले सहृदय और संवेदनशील भी होते हैं। जिले के मयूरहंड थाना में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। थानेदार रूपेश कुमार अपनी दरियादिली को लेकर चर्चा में है।  हुआ यूं कि इस थाना क्षेत्र के महूगाय गांव का युवक दिनेश कुमार भुइयां बाइक से पत्नी के साथ कहीं से लौट रहा था।

उनकी शादी हाल में ही हुई थी। पति-पत्नी जिस दिन बाइक से लौट रहे थे, उस दिन क्षेत्र में शांति व्यवस्था को लेकर मयूरहंड में सघन वाहन जांच अभियान चलाया जा रहा था। इसी दौरान थाना प्रभारी रूपेश कुमार युवक दिनेश कुमार को बगैर हेलमेट के वाहन चलाने के आरोप पचमौ मोड़ में के पास पकड़ लिया। वाहन चौपारण थाना क्षेत्र के लोहड़ी गांव के महेश भुइयां के पुत्री कविता कुमारी के नाम से है। जिसे 12 मई 2019 को खरीदा गया था। वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर JH02AY-7185 है। युवक ने बताया बाइक पत्नी के नाम से है।

उनकी हाल में शादी हुई है। बाइक दहेज में मिली है। लेकिन बगैर हेलमेट के वाहन चलाने के आरोप में थाना प्रभारी ने वाहन जब्त कर लिया। लेकिन पति-पत्नी दोनों के पास न तो जेब में न तो घर में रुपया था।इसके बाद दोनों ने लॉकडाउन में रुपया नहीं होने की गुहार थाना प्रभारी से लगाया। मजबूर होकर थाना प्रभारी ने खुद की जेब से रकम निकालकर थाना के वाहन चालक निरंजन कुमार को चतरा भेजा। इसके बाद कर्मी ने अपने एटीएम से चालान का शुल्क1020 रुपए भरा। उनके वापस आने के बाद थाना प्रभारी ने दोनों पति-पत्नी  को यातायात का नियम समझाया और फिर ऐसी गलती दुबारा नहीं करने की चेतावनी देते हुए उन्हें घर भेज दिया।  थानेदार की यह दरियादिली इन दिनों यहां चर्चे में है।

खबरें और भी हैं...