घर वापसी / आंध्र प्रदेश के चितूर से राज्य के 1796 श्रमिक लौटे

1796 workers from the state returned from Chitur in Andhra Pradesh
X
1796 workers from the state returned from Chitur in Andhra Pradesh

  • श्रमिकों को सैनिटाइज कर मास्क, ओआरएस व भोजन पैकेट, पानी की बोतल दिए गए, बसों से भेजा गया घर

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:53 AM IST

मेदिनीनगर. आंध्रप्रदेश के चितूर से शनिवार की सुबह 9 बजे श्रमिक स्पेशल ट्रेन  रेलवे स्टेशन पहुंची। स्पेशल ट्रेन से  झारखंड के 1796 श्रमिक पहुंचे जो चितूर  के विभिन्न कंपनियों  में काम कर रहे थे। इनमें पलामू प्रमंडल के 746 श्रमिक शामिल हैं। कोरोना वायरस से बचाव के कारण हुए लॉकडाउन में कंपनी का काम बंद होने पर वे वहीं फंस गए थे । उनके समक्ष खाने के लिए लाले पड़ गए थे। ऐसे में स्पेशल ट्रेन से श्रमिकों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए सकुशल उतारा गया। 
उल्लेखनीय है कि श्रमिकों की सुविधा को लेकर पलामू उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि के निर्देश पर पलामू जिला प्रशासन की ओर से स्टेशन पर विशेष व्यवस्था की गई थी। श्रमिकों को हर सुविधा मिले, इसके लिए यहां की गई सभी व्यवस्थाओं पर अधिकारियों की निगरानी थी, ताकि श्रमिकों के प्रति सभी के बीच सम्मान की भावना बनी रहे। जिला प्रशासन द्वारा सभी श्रमिकों का रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या-1 पर बने अस्थाई मेडिकल सेंटर में स्क्रीनिंग की गई। साथ ही उनके हाथों को सैनिटाइज करते हुए मास्क, ओआरएस पैकेट, भोजन पैकेट, पानी बोतल आदि दिए गए। जिला प्रशासन द्वारा डालटनगंज रेलवे स्टेशन पर पूर्व से ही प्लेटफार्म की स्वच्छता, श्रमिकों के लिए भोजन का पैकेट, पेयजल और स्वास्थ्य परीक्षण की मुकम्मल व्यवस्था उपलब्ध कराई  गई।
इधर स्वास्थ्य विभाग के स्टॉल पर थर्मल स्कैनिंग और स्वास्थ्य परीक्षण के बाद श्रमिकों, महिलाओं-बच्चों को गृह जिला भेजने की व्यवस्था की गई है। पलामू जिले के श्रमिकों को बस पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठाकर चियांकी एयरफील्ड परिसर में बने सहायता केन्द्र भेजा गया। जबकि अन्य जिलों के श्रमिकों को भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ उनको गृह जिला पहुंचाया गया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना