पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गाइडलाइन की अनदेखी:गढ़वा का दोगुना भाड़ा 80 रु. वसूल रहे, एक यात्री से दो सीट का किराया, बैठा रहे दो को

मेदिनीनगर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टेंपो का सफर... ऑटो में सवारियों को ठूंस कर बैठाया गया है। ऐसी हालत में कोरोना से कैसे होगा बचाव। - Dainik Bhaskar
टेंपो का सफर... ऑटो में सवारियों को ठूंस कर बैठाया गया है। ऐसी हालत में कोरोना से कैसे होगा बचाव।
  • बस, कमांडर, ऑटो चालक कोरोना काल को अवसर में बदल कर दोहरी कमाई करने में लगे हैं, यात्रियों को नहीं मिल रही सुविधा

कोरोना के दौर में यात्रियों की जेब पर डाका डाला जा रहा है। बस,कमांडर,ऑटो सभी आपदा को अवसर में बदल कर दोहरी कमाई करने में लगे हैं। यात्रियों से दो सीट का किराया लेकर एक ही सीट दिया जा रहा है। कोरोना गाइडलाइन के अनुसार आधी क्षमता के साथ वाहनों के परिचालन का निर्देश राज्य सरकार ने दिया था। इस निर्देश के उलट पूरी क्षमता के साथ वाहनों का परिचालन हो रहा है। लेकिन भाड़ा में कोई कमी नहीं किया गया है। यात्रियों से जबरन दुगुना किराया की वसूली हो रही है। यात्रा के लिए मजबूर यात्री चाहकर भी इसका विरोध नहीं कर पा रहे।

इस पर सवाल करने वाले यात्रियों को दो टूक कहा जाता है कि चलना है तो चलें, भाड़ा कम नहीं होगा। वाहन संचालकों के जवाब के सामने यात्री बेबस हो जाते हैं। इस संबंध में पक्ष जानने के लिए जब जिला परिवहन पदाधिकारी अनवर हुसैन से मोबाइल पर संपर्क किया गया तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।

रांची जाने वाले में मनमानी वसूली

कम दूरी वाले वाहन तो मनमानी कर ही रहे हैं। रांची जाने वाले वाहन भी कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे। मेदिनीनगर से रांची गए शाहपुर के दिलीप कुमार का कहना है कि दो लोग साथ हैं तो उन्हें साथ बैठाया जा रहा है और दुगुना भाड़ा लिया जा रहा है। इसके अलावा जगह-जगह गाड़ियों को रोककर भी पैसेंजर चढ़ाया जा रहा है। बस के स्टाफ बगैर मास्क के रहते हैं। ना बस में किसी को सैनिनिटाइजर दिया जा रहा।

याित्रयों की परेशानी...

कोई नहीं है मनमानी रोकने वाला

गढ़वा के लिए खुलने वाली बसों में सभी सीटों पर यात्रियों को बैठाते हैं। कोरोना के पहले गढ़वा का भाड़ा 40 रुपए था जो एक सितंबर से 80 रुपए कर दिया गया। भंडरिया का किराया 140 रुपए वसूला जा रहा है। फुल लोड ऑटो भी ज्यादा किराया ले रहे हैं। पूर्वडीहा, चांदो, अवसाने का किराया 20 के बदले तीस लिया जा रहा है। सतबरवा रूट में भी यही हाल है। मेदिनीनगर- बरवाडीह रूट पर ऑटो चालक 35 के बदले 70 रुपए किराया ले रहा है । गढ़वा से अपनी पत्नी के साथ मेदिनीनगर आए डंडई निवासी सुरेंद्र प्रजापति ने बताया कि बस वाले ने दोनों को साथ बैठाया और 150 किराया लिया।

खबरें और भी हैं...