सिख समुदाय ने बांटी लोहड़ी की खुशियां:अग्नि की परिक्रमा की, श्रद्धालुओं ने गुरुद्वारा में की पूजा-अर्चना, भव्य कीर्तन दरबार आयोजित किया गया

मेदिनीनगर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सिख समुदाय ने लोहड़ी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया। कहीं पर सामूहिक रूप से पुग्गा जलाया गया तो अधिकांश घरों में कोरोना को लेकर पारिवारिक स्तर पर पुग्गा जलाकर उसकी परिक्रमा की गई। नवविवाहित जोड़े और पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को लोहड़ी का खास इंतजार रहता है। वैसे घरों में छोटे स्तर पर कार्यक्रम आयोजित हुए। सूर्यास्त के बाद घरों में लकड़ी,उपले को जलाया गया।

आग में गुड़, रेवड़ी, गजक, मूंगफली डालकर उसके चारों तरफ चक्कर लगाया। श्रद्धालुओं ने गुरुद्वारा में पूजा-अर्चना की। बेलवाटिका स्थित गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में भव्य कीर्तन दरबार आयोजित किया गया। ज्ञानी हरविंदर सिंह राणा ने कीर्तन किया और लोहड़ी के बारे में जानकारी संगत को दी।

श्रद्धालुओं ने गुरुग्रंथ साहब के हुकुमनामे का श्रवण किया।कीर्तन सभा के संपन्न होने के पश्चात गुरुद्वारा के बाहर रात्रि आठ बजे सांझी लोहड़ी को अग्नि को समर्पित किया गया। लोगों ने अपनी खुशी का इजहार नाच-गाने के साथ किया। मौके पर सिख समाज के चनप्रीत सिंह जॉनी, इन्द्रजीत सिंह डिम्पल, राजेन्द्र सिंह बंटी सहित अन्य सक्रिय थे।

खबरें और भी हैं...