महिला को गोली मारने का मामला:24 घंटे के बाद भी महिला के शरीर से नहीं निकली गोली, परिजनों का हंगामा

मेदिनीनगर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वार्ता करते टीओपी प्रभारी। - Dainik Bhaskar
वार्ता करते टीओपी प्रभारी।

माइंस विवाद में बुधवार को सदर थाना क्षेत्र के पिपरडीह में गोली चली थी। माइंस संचालक सीताराम के बेटों ने जमीन मालिक संतोष साव की पत्नी अजंती देवी को गोली मारी थी। पैर में गोली लगने के बाद महिला को इलाज के लिए मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। गुरुवार को जख्मी महिला के परिजनों ने हॉस्पिटल में हंगामा किया। 24 घंटे से ज्यादा समय तक भर्ती रखने के बाद भी चिकित्सक गोली नहीं निकाल सके।

दोपहर दो बजे के करीब जख्मी महिला को डॉक्टरों ने रांची रेफर कर दिया। डॉक्टरों द्वारा रोककर रखे जाने और एंबुलेंस सुविधा नहीं मिलने के कारण मरीज के परिजन आक्रोशित थे। महिला के पति संतोष का कहना था कि जब एमएमसीएच में गोली नहीं निकालने की व्यवस्था है तो उसकी पत्नी के जान से खिलवाड़ करने के लिए डॉक्टरों ने 28 घंटे बाद बेहतर इलाज के नाम पर रांची भेजा।

खबरें और भी हैं...