घटना की सूचना:विवाहिता ने की आत्महत्या, मायकेवालों ने लगाया दहेज के लिए हत्या का आरोप, पति, सास- ससुर फरार

मेरालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौके स्थल पर ग्रामीण और पहुंचे पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी। - Dainik Bhaskar
मौके स्थल पर ग्रामीण और पहुंचे पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी।

थाना क्षेत्र के रेजो गांव निवासी रानी देवी उर्फ ज्योति (25 वर्ष) पति अनुज कुमार पासवान ने शुक्रवार की रात आत्महत्या कर ली है। इधर ग्रामीणों द्वारा घटना की सूचना पर मेराल थाना प्रभारी लाल बिहारी प्रसाद एसआई अजीत कुमार एएसआई धर्मेंद्र प्रधान ने दल-बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे।

वही मृतका के मायके के परिजन मृत्यु की सूचना पर सैकड़ों की संख्या में आ धमके। बाद में मेराल पुलिस द्वारा शांति व्यवस्था कायम कर मायके पक्ष एवं ग्रामीणो की उपस्थिति में पंचनामा कर शव को कब्जे में ले कर अन्त: परीक्षण हेतु सदर अस्पताल गढ़वा भेज दिया। इधर दहेज के लिए भतीजी की हत्या करने पर दोषियों पर कार्रवाई करने को लेकर मृतका के चाचा नगर बंशीधर थाना क्षेत्र के अधौरा गांव निवासी बबन राम ने मेराल थाना में लिखित आवेदन प्राथमिकी दर्ज करायी है।

आवेदन के आधार पर मेराल थाना में थाना कांड संख्या 191/ 21 धारा 304 बी 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। जबकि पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने मृतिका की चचेरा ससुर को दाह संस्कार करने के लिए शव को सौंप दिया । इधर मृतिका के पति,सास, ससुर सहित लोग फरार बताए गए हैं। मृतका के चाचा बबन राम ने बताया कि वे लोग अपनी भतीजी की शादी 27 अप्रैल 2021 को हिंदू रीति रिवाज से 250000 रुपए नगद एवं पूरा सामान देकर तथा तीन लाख रुपए का गहना देकर विधिवत शादी किया था।

बारात के दिन 25000 बाकी रहने के कारण 3 घंटे तक वरमाला कार्य क्रम को धर्म देव पासवान रोक दिया गया था। बाद उपस्थित लोगों के द्वारा दोनों पक्षों में समन्वय बनाकर शादी का रस में पूरा कराया गया था। शादी के बाद से ही दमाद अनुज कुमार पासवान पिता धर्म देव पासवान निरावती देवी पति धर्मदेव पासवान, विपिन कुमार पासवान पिता धर्म देव पासवान एवं धर्म देव पासवान पिता स्वर्गीय भुनेश्वर पासवान द्वारा लगातार 25000 नगद एवं एक अपाची मोटरसाइकिल की मांग की जा रही थी। इसे लेकर प्रताड़ित की जा रही थी।

पुलिस उपाधीक्षक के समक्ष ग्रामीणों एवं मृतिका के परिजनों ने एक महिला के साथ उसके पति का प्रेम प्रसंग होना भी मौत का कारण बताया है। इस अवसर पर पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी, पुलिस उपाधीक्षक अवध कुमार यादव, थाना प्रभारी लाल बिहारी प्रसाद, बबन राम आदि थे।

खबरें और भी हैं...