पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जमीन को हड़प रहा:जमीन बचाने अनशन पर बैठे परिवार का अनशन सीओ ने तुड़वाई, न्याय का भरोसा

मेराल20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिस कारण उक्त व्यक्ति द्वारा अपने प्रभाव से प्रशासनिक स्तर पर दबदबा कायम कर उनके जमीन को हड़प रहा

मेराल अंचल परिसर पर विगत दिन मंगलवार से अपनी जमीन को बचाने के लिए अनशन पर बैठे योगेश्वर राम एवं उनके परिवार के सदस्यों को अंचलाधिकारी अंगार नाथ स्वर्णकार ने जूस पिलाकर अनशन को तोड़वाया। मामला मेराल अंचल क्षेत्र के छप्परवार कला गांव निवासी योगेश्वर राम की खरीदी की हुई जमीन को उसी गांव के उन्हीं की बिरादरी के दबंग लोग बलपूर्वक जमीन को हड़प रहे हैं। योगेश्वर राम के अनुसार उनकी जमीन को लूटने वाला व्यक्ति काफी ऊंचे ओहदे पर प्रभाव शाली है।

जिस कारण उक्त व्यक्ति द्वारा अपने प्रभाव से प्रशासनिक स्तर पर दबदबा कायम कर उनके जमीन को हड़प रहा है। इसके लिए योगेश्वर राम अंचल से लेकर एसडीओ तक लगातार न्याय पाने के लिए दौड़ एवं गुहार लगाते रहे। लेकिन विपक्षी को ज्यादा प्रभावशाली होने के कारण उन्हें न्याय नहीं मिल रही थी। ऐसी स्थिति में उन्होंने न्याय पाने के लिए अंचल कार्यालय पर अपने परिजनों के साथ भूख हड़ताल करने का निर्णय कर लिया था। गरीबी के कारण योगेश्वर राम के पास भूख हड़ताल के अलावा कोई रास्ता ही नहीं बचा था। अपने जमीन को बचाने के लिए योगेश्वर राम क्रो अपने परिजनों के साथ अनशन पर बैठे जाने की सूचना पाकर झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने तत्काल अपने प्रखंड कमेटी को पहल करने का निर्देश दिया। झामुमो के पहल के बाद अंचलाधिकारी ने अपने हाथों योगेश्वर राम एवं उनके परिवार के सदस्यों को अपने हाथों जूस पिलाकर एवं मिठाई खिलाकर अनशन को तुड़वाया। अंचलाधिकारी ने भरोसा दिलाया कि हर हाल में योगेश्वर राम को न्याय मिलेगा।

खबरें और भी हैं...