पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

देशव्यापी आंदोलन:खेत हमारा, फसल हमारी, दाम तुम्हारा नहीं चलेगा, नारों के साथ नामकुम में रोकी रेल

नामकुम11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मालगाड़ी के आगे सोए लोग, ट्रैक से हटाती पुलिस एवं नारेबाजी करते लोग - Dainik Bhaskar
मालगाड़ी के आगे सोए लोग, ट्रैक से हटाती पुलिस एवं नारेबाजी करते लोग
  • किसान संघर्ष समन्वय समिति के सदस्य ट्रैक पर सो गए, 15 मिनट तक ट्रेन रोकी

किसान संयुक्त मोर्चा के देशव्यापी रेल रोको आंदोलन के तहत झारखंड राज्य किसान संघर्ष समन्वय समिति ने नामकुम स्टेशन पर रांची से मालगाड़ी को लगभग 15 मिनट तक रोका। इस दौरान आंदोलन में शामिल महिला-पुरुष सहित कई लोग ट्रैक पर सो गए।

किसान विरोधी कानून रद्द करो, किसानों के फसल के लिए समर्थन मूल्य का कानून बनाना होगा, मजदूर विरोधी मजदूर कोड रद्द करो, खेत हमारा, फसल हमारी, दाम तुम्हारा नहीं चलेगा... नारे लगा रहे थे। काफी संख्या में रेलवे पुलिस व नामकुम थाना की पुलिस भी स्टेशन पर तैनात थी। पुलिस ने आंदोलनकारियों को ट्रैक से हटाया। तब मालगाड़ी वहां से रवाना हुई। हालांकि आंदोलन के दौरान यात्री गाड़ी को रोका नहीं गया। समिति के राज्य संयोजक सुफल महतो ने कहा कि झारखंड के सभी जिलों में रेल रोको शांति पूर्ण ढंग से सम्पन्न हुआ। आंदोलन किसान विरोधी कानून के वापसी तक जारी रहेगा।

कृषि कानून अडाणी-अंबानी के लिए बनाया है : सुखनाथ
आदिवासी अधिकार मंच के नेता सुखनाथ लोहरा ने कहा कृषि कानून रद्द करने की लड़ाई में झारखंड के आदिवासी साथ है। किसान महासभा के नेता भुवनेश्वर केवट ने कहा कृषि कानून अडाणी-अंबानी के लिए है। एक्टू नेता शुभेंदु सेन ने कहा कि पेट्रोल डीजल गैस मूल्य वृद्धि देश की जनता पर भारी बोझ है।

मोदी सरकार किसानों को बर्बाद करना चाहती है : प्रफुल्ल लिंडा
झारखंड राज्य किसान सभा के नेता बिरेंद्र कुमार ने इस कानून को कॉरपोरेट पक्षीय बताया। महिला नेत्री वीणा लिंडा ने कहा कृषि कानून के खिलाफ लड़ाई में महिलाएं आगे है। आदिवासी अधिकार मंच के महासचिव प्रफुल्ल लिंडा ने कहा मोदी सरकार किसानों को बर्बाद करना चाहती है।

किसान नेता बोले...
हर हाल में काला कानून वापस लेना होगा : केडी
केडी सिंह ने कहा कि आजतक का सबसे बड़ा आंदोलन हुआ है। किसान आंदोलन को बदनाम करने के लिए मोदी सरकार कई हथकंडे अपनाए हैं। लेकिन किसानों के आवाज को दबा नहीं सके। हर हाल में काला कानून वापस लेना होगा।

आने वाले समय में जहाज भी रोकेंगे : सुशांतो मुखर्जी
किसान नेता सुशांतो मुखर्जी ने कहा बिना किसान की राय लिए कानून बनाया है। कृषि कानून किसानों के साथ धोखा है। किसी भी हाल में वापस लेना ही होगा। हमलोग अभी रेल रोको आंदोलन चलाए हैं। आनेवाले समय में एयरपोर्ट में जहाज भी रोकेंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें