अलर्ट जारी:संक्रमण रोकने में 100 दिन महत्वपूर्ण; 5%से अधिक पॉजिटिविटी हो सकता है खतरे का संकेत

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अपर मुख्य सचिव ने लिखा है कि दीवाली में पटाखे और इससे निकलने वाले धुएं पोस्ट कोविड मरीजों के लिए परेशानी बन सकती है। - Dainik Bhaskar
अपर मुख्य सचिव ने लिखा है कि दीवाली में पटाखे और इससे निकलने वाले धुएं पोस्ट कोविड मरीजों के लिए परेशानी बन सकती है।

राज्य में त्याेहारी सीजन को देखते हुए कोरोना अलर्ट जारी किया गया है। केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश पर अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अरुण सिंह की ओर से सभी डीसी को निर्देश जारी कर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित कराने को कहा गया है। केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को अगले 100 दिनों के दौरान अतिरिक्त सतर्क रहने के लिए कहा है।

अपर मुख्य सचिव ने पत्र में कहा है कि जिलों में ‘टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट- वैक्सीनेट’ और कोविड उपयुक्त व्यवहार की पांच सूत्री रणनीति पर ध्यान दिया जाए, ताकि त्याेहारी मौसम सुरक्षित तरीके से गुजर जाए और मामलों में बढ़ोतरी भी न हो।

दिवाली के पटाखे पोस्ट कोविड मरीजों के लिए बढ़ा सकती है परेशानी

अपर मुख्य सचिव ने लिखा है कि दीवाली में पटाखे और इससे निकलने वाले धुएं पोस्ट कोविड मरीजों के लिए परेशानी बन सकती है। ऐसे में लोगों को पटाखा मुक्त दीवाली के लिए जागरूक किया जाना आवश्यक है। आतिशबाजी के कारण होने वाले वायु प्रदूषण से रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, जिसके चलते श्वसन तंत्र से जुड़े रोगियों के साथ-साथ कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों को पोस्ट कोविड से संबंधित परेशानियां बढ़ने का खतरा भी बढ़ जाता है।

खबरें और भी हैं...