झारखंड में कोरोना संक्रमण:पिछले 24 घंटे में मिले 14 कोरोना संक्रमित, 8 ठीक भी हुए; 126 बचे एक्टिव केस

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अब तक पूरे राज्य में 3,48,381 पॉजिटिव मरीजों की पहचान हो चुकी है। (फाइल) - Dainik Bhaskar
अब तक पूरे राज्य में 3,48,381 पॉजिटिव मरीजों की पहचान हो चुकी है। (फाइल)

झारखंड के विभिन्न जिलों में पिछले 24 घंटे में 14 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। वहीं, 8 लोगों ने कोरोना को मात भी दिया। अब झारखंड में 126 एक्टिव केस बचे हैं।

बुधवार को सबसे ज्यादा 7 कोरोना संक्रमित रांची में मिले। अब तक पूरे राज्य में 3,48,381 पॉजिटिव मरीजों की पहचान हो चुकी है। इनमें से 3,43,126 ठीक भी हो चुके हैं।

बुधवार को कहां मिले कितने मरीज
बोकारो में 4, पूर्वी सिंहभूम में 2, रामगढ़ में 1 और रांची में 7

5% से अधिक पॉजिटिविटी हो सकता है खतरे का संकेत
इधर, राज्य में त्याेहारी सीजन को देखते हुए कोरोना अलर्ट जारी किया गया है। केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश पर अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अरुण सिंह की अोर से सभी डीसी को निर्देश जारी कर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित कराने को कहा गया है। केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को अगले 100 दिनों के दौरान अतिरिक्त सतर्क रहने के लिए कहा है। अपर मुख्य सचिव ने पत्र में कहा है कि जिलों में ‘टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट- वैक्सीनेट’ और कोविड उपयुक्त व्यवहार की पांच सूत्री रणनीति पर ध्यान दिया जाए, ताकि त्याेहारी मौसम सुरक्षित तरीके से गुजर जाए और मामलों में बढ़ोतरी भी न हो।

वायु प्रदूषण से रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है
दिवाली के पटाखे पोस्ट कोविड मरीजों के लिए बढ़ा सकती है परेशानी अपर मुख्य सचिव ने लिखा है कि दीवाली में पटाखे और इससे निकलने वाले धुएं पोस्ट कोविड मरीजों के लिए परेशानी बन सकती है। ऐसे में लोगों को पटाखा मुक्त दीवाली के लिए जागरूक किया जाना आवश्यक है। आतिशबाजी के कारण होने वाले वायु प्रदूषण से रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, जिसके चलते श्वसन तंत्र से जुड़े रोगियों के साथ-साथ कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों को पोस्ट कोविड से संबंधित परेशानी बढ़ने का खतरा भी बढ़ जाता है।