पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हवा में लट्‌ठ चलाएगी पुलिस:16 साल में 14 SSP बदल गए; उग्रवादी दिनेश गोप को पकड़ना तो दूर उसकी तस्वीर तक ढूंढ़ नहीं पाए

शंभू नाथ. रांची9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रांची पुलिस के मुताबिक पीएलएफआई उग्रवादियों की तरह संगठित तरीके से काम करता है।
  • लगातार फायरिंग की घटनाओं के बाद SSP एसके झा ने कहा कि दिनेश गोप को ढूंढ़कर मार गिराएंगे
  • दिनेश गोप 2004 से रांची पुलिस को चैलेंज कर रहा है

रंगदारी के लिए कुख्यात पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) के मुखिया दिनेश गोप ने फिर से रांची पुलिस को चुनौती दी है। लगातार फायरिंग की घटनाओं के बाद SSP एसके झा ने कहा कि दिनेश गोप को ढूंढ़कर मार गिराएंगे। हालांकि, पुलिस और एनआईए 16 साल में भी उसे नहीं ढूंढ़ पाई है। फोटो तक सार्वजनिक नहीं किया गया है।

अबकी बार उसने रांची में खौफ पैदा करने की कोशिशें शुरू की हैं। जहां न सिर्फ मुख्यमंत्री रहते हैं, बल्कि झारखंड पुलिस का हैड क्वार्टर भी है। सुप्रीमो दिनेश गोप 2004 से रांची पुलिस को चैलेंज कर रहा है। एक बार फिर से अपना खौफ कायम करने में जुट गया है। वह जिंदा है इसका संदेश देने के लिए उसने उस शहर को चुना है जहां सीएम का निवास है। झारखंड पुलिस का मुख्यालय है। वह सरेआम व्यापारियों के घर व दफ्तर पर गोलियां बरसा रहा है। शहर के नामचीन लोगों को धमका रहा है। रंगदारी नहीं देने पर जान से मार देने की धमकी दे रहा है। 2004 से 2020 के बीच रांची के 14 एसएसपी बदल गए लेकिन उसको पकड़ना तो दूर पुलिस के पास आज तक उसकी फोटो तक नहीं है। अब रांची एसएसपी एसके झा ने दावा किया है कि वह जहां भी है उसे ढूंढ के मारेंगे।

रंगदारी मांगने की नई शैली विकसित की

दिनेश गोप के गुर्गों की तरफ से अब सीधे फोन करके रंगदारी नहीं मांगी जा रही। अब वह पहले लोगों को व्हाट्सएप के माध्यम से धमकी देता है। इसके बाद उन्हें वर्चुअल कॉल या वीडियो कॉल करता है। लगभग सभी से एक सी ही बातें करता है... मोबाइल देखो, मैसेज गया है। ...समय से पैसे नहीं दोगे तो मार दिए जाओगे...। पिछले दो महीने में लगभग चार-पांच लोगों को वह इस तरीके का कॉल कर चुका है। बात नहीं मानने पर डराने के लिए उनके घरों पर गोलियां चलवाता है।

एनआईए ने रखा है पांच लाख का इनाम

पिछली सरकार में इसे पकड़ने की पुरजोर कोशिश की गई थी। इसकी दोनो पत्नियां हीरा देवी और शकुंतला कुमारी को भी गिरफ्तार कर लिया गया था। इसकी और इसके रिश्तेदार की दर्जनों संपत्ति को जब्त कर लिया गया था। एनआईए लगातार इसके खिलाफ अभियान चला रही थी। इसके नाम पांच लाख रुपए का इनाम भी घोषित किया गया है। दबिश के बाद यह अंडरग्राउंड हो गया था। अब नए तेवर में दोबारा से वापस आया है। एनआईए और रांची पुलिस के अलावा रांची के सीमावर्ती आधा दर्जन जिलों की पुलिस को उसकी तलाश है।

क्रिमिनल से करता है गठजोड़

रांची पुलिस के मुताबिक पीएलएफआई उग्रवादियों की तरह संगठित तरीके से काम करता है। ये ऐसे क्रिमिनल का चयन करता है जो लगातार अपराध में जेल गया हो। उसे वह हथियार उपलब्ध कराता है। साथ ही उसे एक निश्चित राशि का भरोसा देकर एरिया का कमांडर बना देता है और उसे उस इलाके में लेवी वसूलने के लिए खुली छूट देता है। नाम दिनेश गोप का होता है और काम क्रिमिनल से एरिया कमांडर बने ये अपराधी करते है।

पुलिस प्लानिंग पर काम कर रही है

रांची एसएसपी एसके झा ने बताया कि शहर में उसके गुर्गों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है। चुन-चुन कर उसके लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है। पिछले एक सप्ताह के भीतर दो एरिया कमांडर समेत आठ-दस लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। दिनेश गोप अब बौखला गया है। उसका बिखरा हुआ ऑर्गनाइजेशन खड़ा नहीं हो पा रहा, वह डिप्रेशन में है। वह अपना डर कायम करना चाह रहा है लेकिन पुलिस अब उसके मंसूबे को कभी सफल नहीं होने देगी। जहां भी है ढूंढ के मारेंगे।

हाल के दिनों में रांची में जिनसे रंगदारी मांगी गई

1. बरियातू इलाके में रहने वाले बिल्डर स्व. अभय सिंह से रंगदारी के तौर पर दो करोड़ रुपये मांगे गए थे। अभय सिंह के कार्यालय में हमला भी हुआ था।

2. तुपुदाना में रहने वाले अनीश शर्मा से एक करोड़ रुपये रंगदारी मांगी गई थी। रंगदारी का पैसा नहीं देने पर उसे जान से मारने की धमकी दी गई।

3. तुपुदाना में राइस मिल के संचालक प्रवीण कुमार से एक करोड़ रुपये बतौर रंगदारी मांगी गई थी। रंगदारी का पैसा नहीं देने पर उनकी गाड़ी में ही व्यवसायी की हत्या करने की बात कही गई थी।

4.अपर बाजार के कारोबारी और धुर्वा के कारोबारी से पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप के नाम पर 50 लाख रुपये रंगदारी मांगी गई।

5.धुर्वा के टेंट व्यवसायी संदीप कुमार से 50 लाख की रंगदारी मांगी गई।

6. अपर बाजार के आर्युवेदिक दवा व्यवसायी विजय सिंघानिया से भी 50 लाख की रंगदारी मांगी गई है।

7.आईएम के रांची चैप्टर के सचिव और चिकित्सक शंभू प्रसाद से 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें