पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

65 तकनीकी संस्थानों को मान्यता:16 इंजीनियरिंग, 47 पॉलिटेक्निक व 2 फॉर्मेसी कॉलेजों को मान्यता

रांची4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एआईसीटीई के निर्देश पर बिना इंस्पेक्शन के दी मान्यता

राज्य के तकनीकी शिक्षण संस्थानों के लिए अच्छी खबर है। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) द्वारा तय समय सीमा के अंदर टेक्निकल विवि द्वारा राज्य के 65 तकनीकी शिक्षण संस्थानों को एक शैक्षणिक सत्र (2020-21) के लिए मान्यता दे दी गई है। इनमें 16 इंजीनियरिंग कॉलेज, 47 पॉलिटेक्निक कॉलेज और दो फार्मेसी कॉलेज शामिल हैं। टेक्निकल विवि ने मंगलवार को इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया।

कोविड-19 के चलते इस वर्ष समय पर एआईसीटीई द्वारा संस्थानों का भौतिक निरीक्षण नहीं हो सका है, इसलिए एआईसीटीई के निर्देश के आलोक में मान्यता मिले संस्थानों का भौतिक निरीक्षण बाद में किया जाएगा। निरीक्षण के क्रम में मानक पूरा नहीं करने वाले शिक्षण संस्थानों की मान्यता रद कर दी जाएगी। बताते चलें कि मान्यता मिले तकनीकी शिक्षण संस्थानों में सरकारी, पीपीपी और निजी तकनीकी शिक्षण संस्थान शामिल हैं।

15 मई तक मिलना था एफिलिएशन

रेगुलेशन के अनुसार, तकनीकी शिक्षण संस्थानों को 15 मई तक मान्यता देने के लिए समय सीमा निर्धारित है। यह सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अनुसार है, लेकिन एआईसीटीई द्वारा कोविड-19 के कारण समय सीमा 30 जून तक बढ़ा दी गई थी। एआईसीटीई ने समय सीमा बढ़ाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में अर्जी भी लगाई है।

गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक खूंटी प्रोसेस में... गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज खूंटी में 2019 से पढ़ाई होनी थी, लेकिन अभी तक एडमिशन प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। प्रभारी प्रिंसिपल एसएन महतो बताते हैं कि इस शैक्षणिक सत्र के लिए एआईसीटीई से मान्यता मिल गई है। टेक्निकल विवि से भी मिल जाएगी।

तय सीमा में दे दी गई मान्यता
इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और फार्मेसी कॉलेजों को एआईसीटीई द्वारा निर्धारित तय सीमा के अंदर मान्यता प्रदान कर दिया गया है। ताकि कॉलेजों में सत्र 2020-21 में एडमिशन और शैक्षणिक कार्य हो सके। -डॉ. गोपाल पाठक, वीसी टेक्निकल विवि

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें