भास्कर की खबर का असर:रांची में बनेंगे 20 हजार घर, इस्लाम नगर के लोगों काे अगले साल फ्लैट

रांची3 महीने पहलेलेखक: संताेष चाैधरी
  • कॉपी लिंक
  • बेघराें और स्लम में रहने वालाें काे मिलेगा वन बीएचके फ्लैट
  • नगर निकाय, आवास बाेर्ड बनाएगा आवास

राजधानी में अगले दाे साल में 20 हजार आवास बनाए जाएंगे। ये आवास पंडरा, बजरा, सामलाैंग, लाेवाडीह और धुर्वा में बनेंगे। नगर विकास विभाग ने नगर निकाय और झारखंड राज्य आवास बाेर्ड काे पुरानी याेजनाएं शुरू करने का निर्देश दिया है।

नगर विकास सचिव विनय कुमार चाैबे ने हाउसिंग काॅलाेनी में जर्जर पड़े अपार्टमेंट काे ताेड़कर फिर से बनाने और नगर निगम काे प्रधानमंत्री आवास याेजना के तहत आवास निर्माण शुरू करने काे कहा है। इसके अलावा उस याेजनाओं काे भी शुरू करने का निर्देश दिया है, जाे जमीन की वजह से रुकी हुई हैं। ताकि दाे साल में बेघराें काे आवास उपलब्ध कराया जा सके।

सचिव ने इस्लाम नगर में बन रहे फ्लैट काे भी तीन महीने में पूरा करने का निर्देश दिया है। उन्हाेंने बताया कि अगले साल की शुरुआत में हर हाल में इस्लाम नगर से हटाए गए लाेगाें काे फ्लैट की चाबी साैंप दी जाएगी।

गाैरतलब है कि धुर्वा में बन रही स्मार्ट सिटी में 11 मंत्रियाें के बंगले बनाने की स्वीकृति नाै महीने के अंदर दे दी गई, लेकिन बेघराें की आवास याेजनाएं वर्षाें से लटकी हुई है। भास्कर ने रविवार के अंक में इस मुद्दे काे प्रमुखता से उठाया था। इसके बाद सचिव ने सभी अधूरी याेजनाओं काे जल्द पूरा करने का निर्देश दिया।

हरमू, अरगाेड़ा व बरियातू हाउसिंग में जर्जर फ्लैट ताेड़कर नए बनेंगे

राजधानी के हरमू, अरगाेड़ा और बरियातू हाउसिंग काॅलाेनी में आवास बाेर्ड के 500 से अधिक फ्लैट जर्जर हाे गए हैं। इन्हें ताेड़कर नए फ्लैट बनाए जाएंगे। नगर विकास विभाग की एजेंसी झारखंड अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कंपनी (जुडको) इन फ्लैट की डिटेल प्राेजेक्ट रिपाेर्ट (डीपीआर) तैयार कराएगी। ये जर्जर बिल्डिंग तीनमंजिला है। इसकी जगह छह से सात मंजिला बिल्डिंग बनाने की याेजना है। ताकि कम जगह में ज्यादा से ज्यादा फ्लैट बन सके और ज्यादा परिवाराें के घर की जरूरतें पूरी की जा सके। आवास बाेर्ड के जिन आवासाें पर अतिक्रमण हाे चुका है, नगर विकास विभाग ने उसे भी खाली कराकर बंदाेबस्ती कराने का निर्देश दिया है।

दाे साल में हर बेघर के पास हाेगा अपना घर

पीएम आवास याेजना के विभिन्न घटक के तहत जल्दी ही 20 हजार से अधिक आवासाें का निर्माण हाेगा। आवास बाेर्ड के जर्जर फ्लैट के स्थान पर नए फ्लैट बनाने का निर्देश दिया गया है। पुरानी याेजनाओं पर काम शुरू कर दिया गया है। अगले दाे साल के भीतर हर बेघर काे अपना घर मिलने पर सरकार काम कर रही है। -विनय कुमार चाैबे, सचिव, नगर विकास विभाग

खबरें और भी हैं...