राष्ट्रीय मतदाता दिवस आज:रांची में 54 हजार वोटर बढ़े, सबसे अधिक मांडर विधानसभा में 14 हजार, सबसे कम तमाड़ में 1900 बढ़े

रांची4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मतदाता सूची का प्रकाशन, 6540 मतदाताओं का स्थान परिवर्तन या अन्य कारण से नाम काटे गए थे

मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 5 जनवरी को हुआ। रांची जिले में इस वर्ष 54,122 नए मतदाताओं के नाम जुड़े हैं। 18 वर्ष की उम्र पूरा करने और कुछ दूसरे विधानसभा से आए मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जाेड़े गए हैं। पिछले वर्ष हुए मतदाता सूची पुनरीक्षण में कुल मतदाताओं की संख्या 23,29,562 थी। जबकि, इस वर्ष हुए पुनरीक्षण में 23,83,684 मतदाता हो गए।

सबसे अधिक 14,835 मतदाता मांडर विधानसभा क्षेत्र में बढ़े। जबकि, सबसे कम 1,906 मतदाता तमाड़ विधानसभा क्षेत्र में बढ़े। इस वर्ष सबसे अधिक 23,814 मतदाताओं के नाम सूची से काटे गए हैं। इसमें 14,320 मतदाताओं की मौत होने से नाम काटे गए हैं। जबकि, 9,494 मतदाताओं के नाम स्थान परिवर्तन या अन्य कारणों से कटे हैं।

पिछले वर्ष के मुकाबले मरने वालों की संख्या में करीब 125% की बढ़ोत्तरी हुई है। पिछले वर्ष हुए मतदाता सूची पुनरीक्षण में रांची जिले में कुल 12,744 मतदाताओं के नाम कटे थे। इसमें 6,204 मतदाताओं की मौत हुई थी। जिला निर्वाचन के पदाधिकारियों की माने तो कोरोना की दूसरी लहर में हुई मौत और बीमारी की वजह से नाम कटवाने वालों की संख्या बढ़ी है।

इस वर्ष सबसे अधिक 23,814 मतदाताओं के नाम सूची से हटे
तमाड़ में 2021 में 108 लोगों के नाम कटे, जिसमें 78 मौत होने से कटे। वहीं 2022 में 3438 नाम कटे, जिसमें 2520 मौत से, सिल्ली में 2021 में 2104 नाम कटे, जिसमें 1414 मौत से व 2022 में 3401 नाम कटे, जिसमें 2382 मौत से, खिजरी में 2021 में 2098 नाम कटे, जिसमें 1229 मौत से व 2022 में 2,687 नाम कटे, जिसमें 1692 मौत से, रांची में 2021 में 1,435 नाम कटे, जिसमें 263 मौत से 2022 में 3,264 नाम कटे, जिसमें 1758 मौत से, हटिया में 2021 में 4,627 नाम कटे, जिसमें 1900 मौत से व 2022 में 5094 नाम कटे, जिसमें 2614 मौत से, कांके में 2021 में 1710 नाम कटे, जिसमें 938 मौत से व 2022 में 3,013 नाम कटे जिसमें 1348 मौत से कटे।

खबरें और भी हैं...