• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • 65 New Infected Were Found In The Train From Orissa And Jammu To Ranchi, All Went Home From The Station By Public Transport

रांची लौट रहा है कोरोना:ओड़िसा और जम्मू से रांची आई ट्रेन में 65 नए संक्रमित  मिले, सभी स्टेशन से घर पब्लिक ट्रांसपोर्ट से गए

रांची7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रांची के सिविल सर्जन डॉ. विनोद कुमार ने कहा कि अब तक एक भी मरीज अस्पताल नहीं पहुंचे हैं, जबकि अस्पतालों में इलाज की पूरी व्यवस्था है। जो भी पॉजिटिव मिल रहे हैं, अपना नंबर बंद कर ले रहे हैं, ऐसे में उन्हें ट्रेस करना मुश्किल हो रहा है। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
रांची के सिविल सर्जन डॉ. विनोद कुमार ने कहा कि अब तक एक भी मरीज अस्पताल नहीं पहुंचे हैं, जबकि अस्पतालों में इलाज की पूरी व्यवस्था है। जो भी पॉजिटिव मिल रहे हैं, अपना नंबर बंद कर ले रहे हैं, ऐसे में उन्हें ट्रेस करना मुश्किल हो रहा है। (फाइल फोटो)

कोरोना एक बार फिर से रांची लौटने लगा है। 72 दिनों बाद एक बार फिर से राजधानी में कोरोना ब्लास्ट हुआ है और 65 नए संक्रमित मिले हैं। सभी अलग-अलग शहरों से रांची पहुंचे हैं। इसमें 55 अकेले पूरी से आने वाली तपस्विनी एक्सप्रेस से मिले हैं जबकि 10 मरीज जम्मूतवी-हटिया-संबलपुर एक्सप्रेस और राउरकेला-हटिया पैसेंजर ट्रेन से पहुंचे थे।

इसके साथ ही रांची में एक्टिव मरीजों की संख्या एक बार फिर से 100 के पार (117) पहुंच गई है। संक्रमण की पुष्टि के बाद भी प्रशासन इन्हें रोकने के बजाय इन्हें घर जाने दी। सभी स्टेशन से पब्लिक ट्रांसपोर्ट से यात्रा कर अपने-अपने घर पहुंचे। ऐसे में त्योहार के बाद एक बार फिर से शहर में तेजी से कोरोना के तेजी से फैलनी की आशंका बढ़ गई है।

पूरी से रांची आने वाली ट्रेन में मरीज के थमने का सिलसिला लगातार जारी है। रविवार को भी पूरी से हटिया आने वाली तपस्विनी एक्सप्रेस में 33 मरीज रांची आए हैं।

जांच में हो रही लापरवाही, आधी हुई संख्या
रांची में अब कोरोना की जांच मुख्य रुप से रांची और हटिया रेलवे स्टेशन के अलावा एयरपोर्ट तक ही सीमित रह गई है। कहने को तो रोज 15 से ज्यादा केंद्र बनाए जाते हैं लेकिन सभी जगह बस खानापूर्ति हो रही है। इसका अंदाजा इसी बात से लगया जा सकता है। एक महीने रांची में औसतन 60 हजार लोगों की जांच की जा रही थी। ये अब घटकर 30-35 हजार रह गई है।

संक्रमित होने के बाद बंद कर ले रहे हैं अपना नंबर
रांची के सिविल सर्जन डॉ. विनोद कुमार ने कहा कि अब तक एक भी मरीज अस्पताल नहीं पहुंचे हैं, जबकि अस्पतालों में इलाज की पूरी व्यवस्था है। जो भी पॉजिटिव मिल रहे हैं, अपना नंबर बंद कर ले रहे हैं, ऐसे में उन्हें ट्रेस करना मुश्किल हो रहा है।

जिलों को जांच बढ़ाने के दिए गए आदेश
NHM के डायरेक्टर भुवनेश प्रताप सिंह ने बताया कि जिलों को अधिक से अधिक संख्या में जांच के आदेश दिए गए हैं। स्टेशनों परजांच की जा रही है। ट्रेनों से लौट रहे यात्रियों की जांच के आदेश दिए गए हैं। संक्रमितों को ट्रेस कर अस्पताल में भर्ती करने के आदेश सभी डीसी को दिया गया है।