पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा गया शहर:आइलेक्स के पास जमीन कारोबारी की 7 गोली मार हत्या, 25 डिसमिल जमीन पर था विवाद

रांची17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ड्राइविंग सीट की ओर से अंधाधुंध गोलीबारी, 7 गोलियां लगीं - Dainik Bhaskar
ड्राइविंग सीट की ओर से अंधाधुंध गोलीबारी, 7 गोलियां लगीं
  • राजधानी का हिनू एरिया सुबह 11 बजे गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया, 4 अपराधियों ने गाड़ी को घेरकर की फायरिंग
  • 13 दिन पहले यही विवाद पहुंचा था थाने, कार्रवाई नहीं हुई
  • परिजनाें का आराेप- वार्ड-49 की पार्षद के पति रिजवान ने कराई हत्या

राजधानी का हिनू इलाका बुधवार सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा गया। आइलेक्स सिनेमा हॉल के पास जमीन कारोबारी अल्ताफ आलम (38) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस वारदात को करीब तीन करोड़ रुपए की 25 डिसमिल जमीन के विवाद से जोड़कर देखा जा रहा है। सुबह करीब 11 बजे अल्ताफ अपने दाेस्त के साथ एसयूवी में बैठकर इडली खा रहे थे। खाने के बाद दाेस्त काे पैसे और प्लेट ठेले वाले काे देने के लिए कहा। दाेस्त जैसे ही गाड़ी से उतरा, हेलमेट पहने चार लोग पहुंचे।

एक ने आगे से गाेली चलाई। गाेली लगने के बाद अल्ताफ बाईं ओर लुढ़का, तभी ड्राइविंग सीट की तरफ से अंधाधुंध फायरिंग शुरू हाे गई। अल्ताफ काे सात गाेलियां लगीं और माैके पर ही माैत हाे गई। फिर अपराधी स्कूटी और बाइक पर सवार हाेकर भाग निकले। परिजनाें ने पार्षद पति रिजवान और अली खां पर हत्या करवाने का आराेप लगाया है। दरअसल, इस जमीन को लेकर एक जुलाई को भी विवाद हुआ था। दोनों पक्षों ने थाने में शिकायत की थी। मगर पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया। लाेगों का कहना है कि अगर उस समय पुलिस कार्रवाई करती तो इस घटना को टाला जा सकता था।

ड्राइविंग सीट की ओर से अंधाधुंध गोलीबारी, 7 गोलियां लगीं

  • गाैस नगर स्थित जमीन (खाता नंबर 280, प्लाट नंबर 506) पर था विवाद
  • जमीन को लेकर एक जुलाई को भी हुआ था झगड़ा, गोली भी चली थी
  • दोनों पक्षों ने पुलिस से की थी शिकायत, पर कोई कार्रवाई नहीं हुई
  • हेलमेट पहने 4 अपराधियों ने दिया घटना को अंजाम

घटना की पृष्ठभूमि- एक जमीन दाे दावेदार और नतीजा खूनी खेल
जमीन मालिक ने कहा-
अल्ताफ नहीं, रिजवान से किया था सेल एग्रीमेंट

जमीन विक्रेता लाल प्रवीर नाथ शाहदेव ने कहा-मैंने पार्षद पति रिजवान से जमीन बेचने के लिए पिछले साल सेल एग्रीमेंट किया था। अल्ताफ काे जमीन नहीं बेची। साेनू कुरैशी उस जमीन पर जबरन कब्जा कर रहा था। इस पर राेक लगाने के लिए मैंने मई में डाेरंडा थाने में आवेदन दिया था, लेकिन पुलिस ने काेई कार्रवाई नहीं थी। अल्ताफ काे मैंने काफी पहले दूसरी जगह पर जमीन बेची थी। लेकिन उसने पैसे नहीं दिए। पैसे मांगे तो धमकी मिली। डाेरंडा पुलिस काे इसकी लिखित शिकायत की, लेकिन पुलिस मुझे ही अंजाम भुगतने की धमकी देने लगी।

अल्ताफ ने की थी शिकायत- दाे लाख रंगदारी मांगी, नहीं दी तो फायरिंग की

अल्ताफ ने डाेरंडा थाने में दी शिकायत में लिखा था-पांच महीने पहले गाैस नगर में एक जमीन खाता संख्या 280, प्लॉट संख्या 506 खरीदी है। वहां बाउंड्री का काम करा रहा था। एक जुलाई काे रिजवान और अली 10 लड़काें के साथ पहुंचे और काम बंद करने की धमकी दी। मेरे सहयाेगी साेनू कुरैशी, तस्लीम खां और रवि कुमार से मारपीट की। कहा-काम कराना हाे ताे दाे लाख रंगदारी दाे, नहीं ताे मारे जाअाेगे। अली ने पिस्टल से गाेली भी चलाई। इसकी आवाज आसपास के लाेगाें ने भी सुना। इन लाेगाें ने पहले भी कई बार धमकी दी थी।

रिजवान का था आराेप- अल्ताफ, साेनू और माेनू जबरन हथिया रहे जमीन

एक जुलाई काे ही रिजवान ने भी डाेरंडा थाने में शिकायत की थी। लिखा था-गाैस नगर में लाल प्रवीर नाथ शाहदेव से खाता संख्या 280, प्लॉट संख्या 506 का सेल एग्रीमेंट कराया है। उस जमीन काे अल्ताफ और बेलदार मुहल्ले के साेनू कुरैशी व माेनू कुरैशी जबरन हथियाने की काेशिश कर रहा है। वे लाेग बाउंड्री भी करा रहा है। जब उन्हें बाउंड्री कराने से राेका ताे साेनू-माेनू ने राॅड से हमला कर दिया। मैं जमीन पर गिरा ताे उनमें से एक ने अल्ताफ से कहा कि रिजवान काे गाेली मार दाे। फिर सभी ने मिलकर मारपीट की।

खबरें और भी हैं...