पूजा सिंघल के बाद माइनिंग डिपार्टमेंट के अधिकारी रडार पर:ED ने 3 जिला खनन पदाधिकारियों को पूछताछ के लिए बुलाया

रांची3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
IAS पूजा सिंघल। - Dainik Bhaskar
IAS पूजा सिंघल।

मनरेगा घोटाले और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ED की गिरफ्त में आयी IAS पूजा सिंघल के बाद अब उनसे जुड़े पूर्ववर्ती विभागों के अधिकारी एजेंसी की रडार पर हैं। ईडी ने पूजा सिंघल और उनके सीए सुमन सिंह से पूछताछ के बाद माइनिंग डिपार्टमेंट के अधिकारियों को समन भेजा है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राज्य के 3 जिला खनन पदाधिकारियों को ईडी ने पूछताछ के लिए अपने कार्यालय बुलाया है।

16 मई को होगी पूछताछ
प्रदेश के दुमका, साहिबगंज और पलामू जिला के खनन पदाधिकारियों को समन भेजकर ईडी ने रांची स्थित अपने जोनल कार्यालय बुलाया है। जिसमें न केवल उनसे पूछताछ की जाएगी बल्कि उनका पूजा सिंघल से लेनदेन के कथित कनेक्शन को भी खंगाला जाएगा।

जीएसएमडीसी के कर्मी की हेरफेर हुई उजागर
खनन विभाग के बाद ईडी झारखंड स्टेट मिनरल डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के एक अनुबंध कर्मी द्वारा अपने पति पत्नी के नाम पर माइंस लीज लिए जाने का मामला सामने आया है। अनुबंध कर्मी अशोक कुमार ने कथित तौर पर अपने पत्नी विद्या शर्मा के नाम पर गढ़वा जिले में माइंस लीज हासिल की ली है। जिस पर भी ईडी की पैनी नजर है।

सरकारी विभाग, बिल्डर औरर निवेश पर हो रही है जांच
आईएएस सिंघल के गिरफ्तारी के बाद उनके व्हाट्सएप चैट से सरकारी विभाग के अधिकारियों, खनन विभाग के अधिकारियों और बिल्डरों का विवरण खंगालना शुरू कर दिया है। सूत्रों की मानें तो इन तीन बिंदुओं पर ईडी गंभीरतापूर्वक जांच कर रही है। इनसे एजेंसी को लिंक मिले हैं। ईडी ने पल्स हॉस्पिटल मामले में शहर के कई राज्य के कई बिल्डरों से पूछताछ की है और निवेश को लेकर भी जानकारी हासिल की है। साथ ही अब सरकारी विभागों में सिंघल के साथ कनेक्शन रखने वाले अधिकारियों से भी ईडी पूछताछ का मन बना रही है। सूत्रों के अनुसार जल्द ही वैसे अधिकारियों और कर्मियों की लिस्ट बनाई जाएगी जो कथित तौर पर सिंघल के करीबियों में गिने जाते रहे हैं।