पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बढ़ सकती हैं लालू की मुश्किलें:विधायकों को प्रलोभन मामले में BJP नेता ने लालू यादव के खिलाफ दायर किया PIL

रांची7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बीजेपी नेता ने लालू यादव पर विधायकों को प्रलोभन देने का लगाया है आरोप। (फाइल) - Dainik Bhaskar
बीजेपी नेता ने लालू यादव पर विधायकों को प्रलोभन देने का लगाया है आरोप। (फाइल)
  • याचिकाकर्ता ने PIL में जेल मैन्युअल की उल्लंघन की बात कही

चारा घोटाला में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। जेल से मोबाइल पर बातचीत करने और विधायकों को प्रलोभन देने के मामले में अब उन पर केस दर्ज होगा। इससे पहले गुरुवार को BJP नेता अनुरंजन अशोक ने उनके खिलाफ हाईकोर्ट में पीआईएल दायर किया है।

जेल में इलाज की व्यवस्था हो
याचिकाकर्ता ने पीआईएल में जेल मैन्युअल की उल्लंघन की बात कही है। उनका कहना है कि लालू यादव मोबाइल फोन से बिहार के विधायकों को सत्ता का लोभ देते हुए नीतीश सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं। भाजपा नेता के वकील राजीव कुमार ने कहा कि इससे पहले भी हाईकोर्ट के कई आदेश हैं जिनमें रिम्स के कॉटेज को राजनीतिक कैदियों द्वारा ऐशगाह बनाए जाने पर संज्ञान लिया गया था। अदालत ने अपने आदेश में कहा था कि अगर किसी कैदी को कई तरह की बीमारियां हैं तो उसके इलाज के लिए जेल में ही अस्थायी व्यवस्था की जा सकती है।

याचिका में कहा- हाईकोर्ट को स्वतः संज्ञान लेना चाहिए
याचिका में कहा गया है कि लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता हैं और लगातार दो साल से रिम्स के पेइंग वार्ड और अब रिम्स निदेशक के बंगले में अपना इलाज करा रहे हैं। इस दौरान उन्हें सेवादार सहित अन्य सुविधाएं मिली हैं, जो राज्य सरकार और जेल अधिकारियों की मिलीभगत के बिना संभव नहीं है। ऐसे में हाईकोर्ट को अपने आदेश के आलोक में स्वतः संज्ञान लेना चाहिए। याचिकाकर्ता ने कहा कि इस पूरे प्रकरण में जनहित याचिका तैयार कर ली गई है जो आज दाखिल कर दी जाएगी।