मामले को गंभीरता से लिया:स्पीकर के पैर पकड़ने वाले भाजपा विधायक राज सिन्हा पड़े मुश्किल में

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर ने 5 अगस्त को छापी थी तस्वीर। - Dainik Bhaskar
भास्कर ने 5 अगस्त को छापी थी तस्वीर।

विधानसभा अध्यक्ष रबींद्र महतो के पैर पकड़ने पर धनबाद के भाजपा विधायक राज सिन्हा मुश्किल में पड़ गए हैं। केंद्रीय नेतृत्व ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। संगठन ने इस विषय पर प्रदेश से रिपोर्ट मांगी है। प्रदेश भाजपा ने भी इस रवैये को गलत बताते हुए इस पूरे प्रकरण पर अपना मंतव्य भेजा है।

झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के पांचवें दिन स्पीकर कक्ष के बाहर भाजपा विधायक अपने चार विधायकों के निलंबन वापसी धरना दे रहे थे। कार्यवाही शुरू होने के समय जैसे ही स्पीकर रबींद्र नाथ महतो सदन में जाने के लिए अपने कक्ष से निकले, विधायक राज सिन्हा ने स्पीकर के पैर पकड़ लिए। उनसे बीजेपी विधायकों का निलंबन वापस लेने का आग्रह किया।

इसके बाद सदन की कार्यवाही शुरू होते ही स्पीकर ने निलंबित चारों विधायक भानु प्रताप शाही, ढुल्लू महतो, जयप्रकाश पटेल और रणधीर सिंह को निलंबन मुक्त कर दिया। यह घटना मीडिया की सुर्खियों में रही थी। पार्टी विधायकों ने बताया कि धरना में स्पीकर का पैर पकड़ने की कोई योजना नहीं थी। भाजपा केंद्रीय नेतृत्व का मानना है कि विधायक ने अपनी गरिमा का ध्यान नहीं रखा, उन्होंने पार्टी की छवि धूमिल की है।

विधायकों ने कहा- धरना से पहले कोई योजना नहीं बनाई थी

मामला गंभीर है, रिपोर्ट भेज दी है : दीपक

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा है कि यह मामला गंभीर है। केंद्रीय नेतृत्व द्वारा उनसे रिपोर्ट मांगी गई थी, जिसे उन्होंने भेज दिया है। अब उनको ही इस पर निर्णय लेना है।

मुझसे किसी ने कुछ नहीं पूछा : राज सिन्हा

भाजपा विधायक राज सिन्हा ने कहा कि इस संबंध में उनसे किसी ने कुछ भी नहीं पूछा है। प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर के नेताओं ने उनसे इस संबंध में कोई बात नहीं की है।

खबरें और भी हैं...