पलामू डीसी के खिलाफ बीजेपी ने खोला मोर्चा:कहा- रिश्तेदारों को दिलाया खनन लीज, बालू टेंडर भी मैनेज करते रहे हैं सिंघल के करीबी

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने पलामू डीसी पर अवैध तरीके से अपने रिश्तेदारों को खनन लीज देने का आरोप लगाया। - Dainik Bhaskar
बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने पलामू डीसी पर अवैध तरीके से अपने रिश्तेदारों को खनन लीज देने का आरोप लगाया।

खनन लीज को लेकर बीजेपी ने पलामू डीसी शशि रंजन पर निशाना साधा है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने रविवार को पलामू डीसी पर अवैध तरीके से अपने रिश्तेदारों को खनन लीज देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि 'मेसर्स मां विध्यवासिनी टूल्स' और 'मेसर्स प्राइम स्टोन' के नाम से पलामू डीसी के दो रिश्तेदारों को खनन लीज दिया गया है। बकौल दीपक प्रकाश दोनों बिहार के बक्सर के रहने वाले हैं और ये डीसी के ससुराल पक्ष से संबंधित हैं।

उन्होंने कहा कि इन दोनों को डीसी ने पलामू में 4.17 एकड़ क्षेत्र में फैले पत्थर खनन का लीज दिया है। भाजपा नेता ने कहा कि पलामू डीसी इस मामले में अपने स्थिति को स्पष्ट करें, नहीं तो पार्टी इनके खिलाफ जोरदार आंदोलन चलाएगी।

सिंघल के करीबी ने भी पत्नी के नाम पर ली लीज
उन्होंने यह भी आरोप लगाया की जेएसएमडीसी की चेयरपर्सन रही निलम्बित आईएएस पूजा सिंघल के काफी करीबी अशोक कुमार जो वहां अनुबंध पर कार्यरत हैं, ने भी अपनी पत्नी के नाम पत्थर लीज लिया है।

बालू टेंडर भी मैनेज करते रहे हैं सिंघल के करीबी
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि ईडी की रडार में आई सिंघल के नजदीकी अशोक कुमार वैसे तो पलामू के प्रोजेक्ट अफसर है, लेकिन ये गढ़वा में बालू टेंडर मैनेज करने को लेकर भी चर्चा में रहे हैं। इस बात का भाजपा को पुख्ता सबूत मिला है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने जांच एजेंसी ईडी से अनुरोध किया है कि वह इस मामले में अशोक कुमार से भी पूछताछ करें। साथ ही उन्होंने स्मार्ट सिटी परियोजना में भ्रष्टाचार का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि सचिव के देखरेख में ही आज राज्यवासियों पर होल्डिंग टैक्स का भार डाला गया है।

खबरें और भी हैं...